बस्तर की सभी सीटें जीतेंगे- BJP

Wednesday, September 28, 2016

A A

छत्तीसगढ़ भाजपा

रायपुर | संवाददाता: बस्तर में छत्तीसगढ़ भाजपा कार्यसमिति की बैठक हो रही है. बुधवार को बस्तर में छत्तीसगढ़ भाजपा की प्रदेश कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक शुरु हुई. इस बैठक को संबोधित करते हुये छत्तीसगढ़ भाजपा के अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि अगले चुनाव में पार्टी बस्तर के 12 में से 12 सीटें जीतेगी.

उन्होंने याद दिलाया कि 2003 में बस्तर में पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक हुई थी हुई थी जिसके बाद 12 में से 11 सीटें पार्टी को मिली थी. आज यहां के कार्यकर्ताओँ के जोश को देखकर लग रहा है कि अगले चुनाव में पार्टी पूरी सीटें जीतेगी.

राजनीतिक प्रस्ताव मंत्री अमर अग्रवाल ने पेश किया जिसका अनुमोदन पूर्व विधानसभा अध्यक्ष नारायण चंदेल एवं स्थानीय विधायक संतोष बाफना ने किया.

मंत्री अजय चंद्राकर ने प्रदेश कार्यसमिति में अपने विभाग से संबंधित जनकल्याणकारी कार्यो एवं योजनाओं को बताते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ भारत में पहला राज्य बना जिसने खाद्य् सुरक्षा कानून बनाया और उसे सफलतापूर्वक लागू कर जनसामान्य की सेवा का पूनीत कार्य किया.

|| मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा कि 13 साल पहले वामपंथी सोमनाथ चटर्जी ने हमारे इस कानून की तारीफ करते हुए कहा था कि हम सदैव भाजपा से वैचारिक लड़ाई लड़ते रहे लेकिन छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार ने गरीबों के लिए खाद्य् सुरक्षा कानून लाकर हमसे आगे निकल गये.||

राष्ट्रीय महामंत्री एवं छत्तीसगढ़ प्रभारी डॉ. अनिल जैन ने बैठक संबोधित करते हुए कहा कि अमित शाह ने पार्टी का अध्यक्ष बनते ही तय कर लिया था कि पार्टी को देश के 120 लोकसभा क्षेत्रों में जहां पर वह कमजोर है मजबूत करना है. जिसका ही परिणाम है कि आसाम में बहुमत के साथ सरकार बनी है. बंगाल में भी सहयोगियों के साथ 5 विधायक हैं और 11 से अधिक प्रतिशत वोट लेकर भाजपा ने दस्तक दी है. केरल में भी 15 प्रतिशत वोट मिला है यह चरेवेती-चरेवेती मंत्र को सार्थक करता है.

उन्होंने याद दिलाया कि 1967 में केरल के कालीकट में हुये जनसंघ की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में पं. दीनदयाल उपाध्याय को राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया था. पं. दीनदयाल उपाध्याय ने पूरे देश का भ्रमण कर चरेवेती-चरेवेती के सिद्धांत पर चलकर पार्टी को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया था.

अमर अग्रवाल द्वारा पेश पार्टी के राजनीतिक प्रस्ताव में जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना के शिविर पर हुये हमलें की तीव्र निंदा की गई. उरी हमलें के शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा उठाये कदमों का समर्थन किया गया.

राजनीतिक प्रस्ताव में कहा गया है, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की अपनी सरकार दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, उज्ज्वला योजना, स्वच्छता अभियान, योग दिवस अभियान जैसी योजनायें अन्त्योदय की दिशा में मील का पत्थर साबित हो रही हैं. केंद्र की मुद्रा योजना, स्टार्ट-अप, स्टैंड अप, मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, इज ऑफ डूइंग बिजनेस आदि योजनाओं से भी युवाओं में जबरदस्त उत्साह है और इन तमाम योजनाओं के सफल क्रियान्वयन के द्वारा समाज के सबसे अंतिम पंक्ति के लोगों तक रोजगार और समृद्धि पहुंच रहा है.”

राजनीतिक प्रस्ताव में आगे कहा गया है, ” पिछले कुछ समय से महानदी पर बनने वाले बैराज को लेकर पड़ोसी राज्य और वहां का नेतृत्व ओछी राजनीति कर रही है. जांजगीर में घटी घटना पर हमारी सरकार द्वारा संवेदना का परिचय देते हुए जांच के लिए न्यायिक जांच कराने निर्णय किया गया. किन्तु प्रदेश की विपक्षी कांग्रेस पार्टी द्वारा ओछी राजनीति की जा रही है. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अपने चरित्र के अनुसार लाश पर राजनीति करती आ रही है. विपक्ष के स्तरहीन राजनीति की भारतीय जनता पार्टी निंदा करती है, भर्त्सना करती है.”

Tags: , , , , , , , ,