बीफ बिना भी मुसलमान बने रहेंगे- खट्टर

Friday, October 16, 2015

A A

मनोहर लाल खट्टर-मुख्यमंत्री

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: हरियाणा के सीएम खट्टर ने कहा है कि बीफ छोड़ने के बाद भी मुसलमान बने रहेंगे. अपने कार्यकाल के एक साल पूरा होने पर हरियाणा के भाजपा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने एक अंग्रेजी दैनिक को दिये साक्षात्कार में कहा कि “बीफ खाने से दूसरे समुदाय की भावनाएं आहत होती हैं, संवैधानिक तौर पर भी आप ऐसा नहीं कर सकते हैं. संविधान कहता है कि आप कुछ ऐसा नहीं कर सकते जो कि मुझे आहत करे, मैं कुछ ऐसा नहीं कर सकता जो कि आपको आहत करे.”

उन्होंने आगे कहा, “वे बीफ खाना छोड़ दें तब भी मुसलमान ही बने रहेंगे या नहीं? कहीं भी ऐसा नहीं लिखा है कि मुसलमानों को बीफ खाना ही चाहिए. ईसाई धर्म में भी कहीं नहीं लिखा कि उन्हें बीफ खाना ही चाहिए.”

अंग्रेजी दैनिक इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, हरियाणा में सीएम के तौर पर अपना एक साल पूरा करने जा रहे खट्टर ने अखबार को दिए गए इंटरव्यू में कहा कि भारत की बहुसंख्यक आबादी के लिए गाय, गीता और सरस्वती आस्था से जुड़ी हुई हैं और मुस्लिम बीफ खाना छोड़कर अपने धार्मिक विश्वास को नहीं तोड़ेंगे.

मनोहर लाल खट्टर के बयान के बाद मीडिया में मचे बवाल पर सफाई देत हुये उन्होंने कहा कि मैंने कभी नहीं कहा कि बीफ खाने वाले मुसलमान देश छोड़ दे.

विपक्षी पार्टियों द्वारा निशाना बनाए जाने पर मुख्यमंत्री ने सफाई देते हुए कहा, “मैं ऐसा मैं किसी कोई सुझाव नहीं दिया कि किसी को पाकिस्तान चले जाना चाहिए. हम एक दूसरे के धर्मों का सम्मान करते हुए साथ रहते हैं, सदियों से यही हमारी परंपरा रही है. हमें एक दूसरे की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए.”

इंडियन एक्सप्रेस द्वारा यह पूछे जाने पर कि दादरी की घटना वारदात को वह किस तरह से देखते हैं और क्या ऐसी घटनाएं देश का सांप्रदायिक ध्रुवीकरण नहीं कर देंगी, इसके जवाब में खट्टर ने कहा, “मुस्लिम रहें, मगर इस देश में बीफ खाना छोड़ना ही होगा उनको. यहां की मान्यता है गौ.”

Tags: , , , , , , , ,