बच्ची से बलात्कार के लिये स्कूल जिम्मेवार

Friday, July 18, 2014

A A

छत्तीसगढ़ में रेप के मामले अधिक

बेंगलुरु | समाचार डेस्क: बेंगलुरु के स्कूल में 6 साल की बच्ची से बलात्कार के बाद शहर के दूसरे स्कूलों को लेकर भी सवाल खड़े हो गये हैं. कहा जा रहा है कि बच्चों के साथ छेड़छाड़ और दुर्व्यवहार की घटनाएं बेहद आम हैं लेकिन इस तरह की घटनाओं को स्कूल प्रबंधन कई बार दबा जाता है.

दो दिन पहले बेंगलुरु के जिस स्कूल में बच्ची के साथ कथित बलात्कार की खबर आई है, उसके प्रबंधन ने भी पहले घटना को दबाने की ही कोशिश की थी और पूरे मामले को चोरी की एक वारदात से जोड़ कर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की थी. अभिभावकों का कहना है कि 6 साल की बच्ची के साथ बलात्कार की इस घटना के लिये स्कूल प्रबंधन भी बराबर का जिम्मेवार है.

इधर इस पूरे मामले से नाराज़ अभिभावकों ने स्कूल में कल प्रदर्शन किया, वहीं केंद्र सरकार ने भी पूरे मामले की जांच रिपोर्ट सरकार से मांगी है. शिक्षा मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि इस तरह की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

इस मामले में स्कूल प्रबंधन अभी भी पूरे मामले की लीपापोती में जुटा हुआ है. अभिभावकों का कहना है कि बच्ची से बलात्कार की घटना में स्कूल के ही दो कर्मचारी शामिल हैं. उनका कहना था कि स्कूल प्रबंधन ने बेहद असंवेदनशीलता का परिचय दिया है. स्कूल प्रबंधन लगातार यह साबित करने की कोशिश कर रहा है कि बच्ची के साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ है. इस घटना से नाराज कई अभिभावकों का कहना था कि जब तक पूरे मामले की जांच नहीं हो जाती तब तक वे अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे.

कर्नाटक सरकार ने भी राज्य के दूसरे सभी स्कूलों में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त की बात कही है. सरकार ने स्कूल शिक्षा विभाग को इस तरह के मामलों में कड़ी कार्रवाई के निर्देश भी दिये हैं.

Tags: , , , , , ,