अंबिकापुर में हाथियों का कहर जारी

Saturday, February 1, 2014

A A

हाथी

अम्बिकापुर | एजेंसी: अम्बिकापुर वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले में धरमपुर व आसपास के गांवों में पिछले पांच दिनों से 17 हाथियो के दल ने आतंक मचाया हुआ हैं. इसी क्रम में शुक्रवार को हाथियों ने पांच घरो ढहाने के साथ ही गन्ना व गेंहूं की फसल को भारी नुकसान पहुंचाया है.

अम्बिकापुर परिक्षेत्रांतर्गत पिछले पांच दिनों से 17 हाथियों का दल धरमपुर जंगल को अपना बसेरा बनाये हुये है. गुरूवार को शाम ढलने के बाद हाथी जंगल से निकल सड़क पर आ गये थे .जिससे घंटो तक यातायात बंद रहा. हाथियों को देखने यात्रियों के साथ ही ग्रामीणों की भीड़ भी जमा हो गई थी. कुछ देर के बाद हाथियों ने गांव में घुसकर चार घरों को तोड़ फोड की तथा घर में रखे अनाज खा गए .

इस दौरान हाथियों ने जगदेव, नयनदास ,करम साय, खीरू पंडा व दलदली निवासी भृगू यादव का घर तोड़ दिया. हाथियों के गांव से घुसते ही भयभीत ग्रामीम जगह जमा हो गये. पूरी रात आग से सहारे काटी. इस दौरान हाथी नयनदास द्वारा भान के बाड़े में छिपा कर र खे गये तीन हजार रूपये भी अनाज के साथ खा गये.

गांव से निकलने के बाद हाथी केपी के खेत में पहुंचे तथा पांच एकड़ में लगी गन्ना व गेहॅू की फसल को खा गये .हाथियों ने दूसरे किसानों की फसल को भी क्षति पहुंचाई है.

ग्रामीण ने बताया कि 17 हाथियों का दल तीन दलों में विभक्त होकर ग्राम धरमपुर, मदनपुर व दलदलपुर में आतंक मचा रहा है. हाथियों के खौफ से ग्रामीण रतजगा कर रहे हैं. ग्रामीणों ने वन विभाग से हाथियों के आतंक से मुक्ति दिलाने की मांग की है.

Tags: , , , , ,