भाजपा-सपा का गठबंधन-आप

Monday, January 27, 2014

A A

आम आदमी पार्टी

लखनऊ | समाचार डेस्क : आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा है कि भाजपा और सपा उत्तरप्रदेश में सांप्रदायिकता की राजनीति करना चाहती हैं. उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियां उप्र में मिलकर सांप्रदायिकता की राजनीति करना चाहती हैं और इसी का परिणाम है कि उप्र में 100 से अधिक दंगे हो चुके हैं.

आप नेता संजय सिंह ने कहा कि उप्र विधानसभा में आपराधिक छवि वाले विधायकों की संख्या बहुत अधिक है और यही हाल संसद का भी है. संसद में 73 से अधिक ऐसे सांसद हैं, जिन पर गंभीर अपराधिक मामले चल रहे हैं. ऐसे में हमारा दल एक ईमानदार विकल्प के रूप में जनता के सामने है.

उन्होंने कहा कि उप्र में चल रही सरकार अपने कारनामों से विख्यात हो रही है. कहीं टोल प्लाजा में उसूली हो या फिर इंजीनियरों की पिटाई का मामला हो. प्रदेश में 100 से अधिक दंगे हो चुके हैं. कुल मिलाकर सपा और भाजपा यहां मिलकर पुन: सम्प्रदायिकता की राजनीति करना चाहते हैं. उन्होंने कहा आम चुनाव के लिए हर लोकसभा सीट पर नजर रखी जाएगी और इसके लिए हर लोकसभा सीट पर एक-एक प्रभारी नियुक्ति किया जा चुका है. पूरे देश में 350 सीटों पर चुनाव लड़ा जाएगा और सभी नामचीन हस्तियों और माफियाओं के खिलाफ चुनाव लड़ने की तैयारी की जा रही है.

संजय सिंह ने कहा कि आम चुनाव में किसी भी दल से गठबंधन नहीं किया जाएगा. सिंह ने बताया कि लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर एक प्रदेश स्तरीय को-आर्डिनेशन समिति का गठन कर दिया गया है.

उन्होंने बताया कि लोकसभा में प्राप्त हो रहे आवेदनों की जांच के लिए एक प्रदेश स्तरीय स्क्रीनिंग कमेटी का भी गठन किया गया है. यही कमेटी उम्मीदवारों की जांच कर दिल्ली पीएसी कमेटी को भेजेगी. उन्होंने राजनीति में अपराधीकरण, भ्रष्टाचार के प्रति चिंता भी व्यक्ति की.

Tags: , , , , ,