दिल का दौरा रोकने के लिए वैक्सीन?

वाशिंगटन | एजेंसी: दिल के रोगों के लिए भी अब वैक्सीन होगी. वैज्ञानिक दुनिया की ऐसी पहली वैक्सिन के विकास के बिल्कुल करीब हैं. यह धमनियों में प्रतिरक्षा आधारित सूजन को कम करेगा, जिससे प्लैक के जमाव में कमी आएगी. आरंभिक खोज के दौरान चूहे में अथेरोस्केलोरॉटिक प्लैक की मात्रा को कम करने के लिए स्वप्रतिजन-विशेष, ऑटोएंटीजेन स्पेसिफिक वैक्सीन के विकास के सकारात्मक संकेत मिले हैं.

अथेरोस्केलोरॉसिस धमनी की दीवारों में सूजन की बीमारी है, जिसमें कॉलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड के जमाव से दीवारें मोटी हो जाती हैं.


अमरीका के वायन स्टेट यूनिवर्सिटीज स्कूल ऑफ मेडीसिन के इम्यूनोलॉजी और माइक्रोबायोलॉजी के प्रोफेसर हार्ले सी ने कहा, “टी-सेल पेप्टाइड वैक्सीन दिल की बीमारियों को रोकने में सहायता कर सकता है या बीमारी को बढ़ने से रोक सकता है या कम कर सकता है. वैक्सीन स्ट्रोक को रोकने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है, जो धमनियों में प्लैक के जमाव के परिणामस्वरूप होता है.”

यह खोज लो जोला इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इम्यूनोलॉजी के ख्यातिप्राप्त संवहनी जीवविज्ञानी क्लाउस ले की प्रयोगशाला में की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!