खादी विलेज के कैलेंडर से गांधी गायब

मुंबई | समाचार डेस्क: खादी विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन के सालाना कैलेंडर एवं डायरियों में गांधी का स्थान प्रधानमंत्री मोदी ने ले लिया है. पहले कैलेंडर एवं डायरियों में चरखे पर बैठे महात्मा गांधी की तस्वीर हुआ करती थी. परन्तु इस बार 2017 में चरखे पर प्रधानमंत्री मोदी चरखा कातते हुये दिखाई पड़ रहें हैं. गुरुवार को खादी विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन के कर्मचारी इसके विरोध में भोजनावकाश के समय मुंह पर काली पट्टी लगाये हुये दिखे.

खादी विलेज इंडस्ट्रीज कमीशन के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना का कहना है कि मोदी की इस तस्वीर में कुछ भी गलत नहीं है और गांधीजी की इस मशहूर तस्वीर में पहली बार बदलाव नहीं हुआ है.


उन्होंने कहा, “पूरा खादी उद्योग गांधीजी के आदर्शों पर आधारित है इसलिये उन्हें नजरअंदाज करने का सवाल नहीं उठता. मोदी भी लंबे वक्त से खादी पहनते आ रहे हैं और इसे देश-विदेश में लोकप्रिय बनाने में उनका भी योगदान है. उन्होंने खादी को अपना अलग अंदाज दिया है.”

दूसरी ओर एक कर्मचारी ने नाम ना छापने की शर्त पर कहा कि वो गांधीजी के विचारों के साथ साल दर साल हो रहे समझौते से आहत हैं. “पिछले साल भी प्रधानमंत्री के फोटो को कैलेंडर में जगह दी गई थी”.

2016 में कर्मचारी यूनियनों ने इस मसले को जोर-शोर से उठाया था. उस वक्त मैनेजमेंट ने भरोसा दिलाया था कि गांधीजी की इस तस्वीर के साथ छेड़छाड़ नहीं की जायेगी.

उपरोक्त कर्मचारी का कहना था, “लेकिन इस साल गांधीजी की तस्वीर पूरी तरह ही हटा दी गई है. महात्मा गांधी की फिलासफी और उनकी तस्वीर को कैलेंडर और डायरी से पूरी तरह हटा दिया गया है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!