छत्तीसगढ़ को रेल मंत्रालय देगा भरपूर मदद

रायपुर | संवाददाता:छत्तीसगढ़ को रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने भरपूर मदद का आश्वासन दिया है.

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मेक इन इंडिया के सपने को छत्तीसगढ़ जल्द से जल्द साकार करेगा. मेक इन इंडिया के सपने को साकार करने के लिए छत्तीसगढ़ को विकसित राज्य बनाना जरूरी है. नये राज्य के रूप में छत्तीसगढ़ विकास की राह पर तेजी से अग्रसर है.

श्री प्रभु शनिवार को रेल्वे स्टेशन में मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ विभिन्न यात्री सुविधाओं का शुभारंभ करने के बाद जनता को सम्बोधित कर रहे थे.

सुरेश प्रभु ने अपने उद्बोधन में कहा कि छत्तीसगढ़ में विकास की असीम संभावनाएं मौजूद है. यहां उपलब्ध खनिज सहित अन्य संसाधनों के दोहन का भरपूर लाभ छत्तीसगढ़वासियों को मिल सके, इस दिशा में रेलवे द्वारा ज्वाइंट वेंचर प्रोजेक्ट के जरिये विशेष कार्य योजना तैयार की जा रही हैं.

उन्होंने कहा कि सन् 2009 से 2014 तक जहां छत्तीसगढ़ को रेलवे से 311 करोड़ रूपए का वार्षिक बजट मिलता था, वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार द्वारा सन् 2014 से 2016 तक छत्तीसगढ़ में प्रतिवर्ष 1668 करोड़ रूपए रेल्वे में निवेश किया गया, वहीं चालू सत्र के लिए 3676 करोड़ रूपए के निवेश का लक्ष्य रखा गया है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मेक इन इण्डिया के सपने को साकार करने के लिए छत्तीसगढ़ को विकसित राज्य बनाना जरूरी है. श्री प्रभु ने बताया कि तीसरा रेल सप्ताह का आयोजन छत्तीसगढ़ में किया जाएगा, इससे पहले आसाम और ओडिशा में किया गया है.

रेलमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ के परम्परागत ग्रामीण शिल्पियों को उनकी कलाकृतियों का बेहतर दाम मिल सके, इसके लिए रेल्वे की वेबसाइट में ई-मार्केटिंग के जरिये इन सामग्रियों की मार्केटिंग की जाएगी जिससे ये कलाकृतियां विदेशों तक पहुंच सकेंगी. इसी तरह यहां के महिला समूहों को ई-केटरिंग के जरिये जोड़ा जाएगा, जिससे महिला समूहों को बेहतर आमदनी होगी और यात्रियों को घर का बना खाना मिल सकेगा.

श्री प्रभु ने कहा कि रेलवे द्वारा छत्तीसगढ़ के 7 प्रमुख स्टेशनों में एयर पोर्ट जैसी सुविधाओं का विकास किया जाएगा. ग्लोबल वार्मिंग से निपटने के लिए रेलवे ने रेल पटरियों के किनारे 5 करोड़ पौधे भी लगाने का निर्णय लिया है, जिसमें छत्तीसगढ़ में दो करोड़ पौधे लगाए जाएंगे. पानी के रीस्टोर के लिए राज्य सरकार के साथ मिलकर मनरेगा के तहत जल संरचनाओं का निर्माण किया जाएगा.

शुभारंभ समारोह में रेल मंत्री और मुख्यमंत्री ने राजनांदगांव से नागपुर के बीच तीसरी रेल लाइन की आधारशिला रखी. इसे मिलाकर उन्होंने प्रदेशवा में 9 विभिन्न यात्री सुविधाओं की शुरुवात की .

रेल मंत्री और मुख्यमंत्री ने जिन यात्री सेवाओं की शुरूआत की, उनमें रायपुर स्टेशन के गुढ़ियारी प्रवेश छोर पर दो एस्केलेटर एवं प्लेटफार्म नम्बर 2-3 और 5-6 पर लिफ्ट की सुविधा, बिलासपुर और दुर्ग स्टेशनों में हाई स्पीड वाई-फाई की सुविधा, डोंगरगढ़ स्टेशन पर नवनिर्मित फुट ओव्हर ब्रिज, दुर्ग स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर 1, 2-3 तथा 4-5 में लिफ्ट का लोकार्पण शामिल हैं. इस अवसर पर दुर्ग स्टेशन से चलने वाली दुर्ग-निजामुद्दीन ‘हमसफर’ द्वि-साप्ताहिक एक्सप्रेस की नई सेवा को भी हरी झंडी दिखाकर शुभारंभ किया गया.

इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री रमशीला साहू, सांसद रमेश बैस, भूषण लाल जांगड़े, रामविचार नेताम, छाया वर्मा, अभिषेक सिंह, विधायक श्रीचंद सुंदरानी, रेल्वे बोर्ड के अध्यक्ष ए.के. मित्तल, वाणिज्य, उद्योग और खनिज संसाधन विभाग के सचिव सुबोध सिंह, रेल्वे के महाप्रबंधक एस.एस. सोईन सहित बड़ी संख्या में नागरिक, रेल्वे के अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!