मस्तूरी हत्याकांड: दो गिरफ्तार

बिलासपुर | संवाददाता: पुलिस ने मस्तूरी हत्याकांड के सिलसिले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. दोनों देवगांव के निवासी हैं. मस्तूरी पुलिस ने जिन दो लोगों को हत्याकांड के सिलसिले में गिरफ्तार किया है उनमें एक 22 वर्षीय बाबला बंजारे तथा दूसरा संतराम खण्डेकर हैं. इन दोनों को धारा 302, 201 तथा 376 के तहत गिरफ्तार किया गया है. उल्लेखनीय है कि जयराम नगर से लौट रही युवती की 6-7 जनवरी की रात रेप के बाद हत्या कर दी गई थी. अगले दिन युवती की लाश देवगांव तथा खुडुभांटा के मध्य खेत में मिली थी.

मस्तूरी पुलिस थाना द्वारा जारी विज्ञपत्ति में कहा गया है कि पहले संदेह के आधार पर संतराम को तलब किया गया था. उसके कथन के आधार पर बाबला बंजारे को भी बुलाया गया. पुलिस द्वारा कड़ी पूछताछ करने पर बाबला ने स्वीकार किया कि वह युवती को बचपन से जानता है तथा दोनों सहपाठी रहें हैं. बाबला ने बताया कि उसे जान पहचान का फायदा उठाकर मृतिका को उस स्थान पर बुलाया था. बाबला ने बताया कि बचपन में एक बार झगड़े के दौरान मृतिका ने उसे हिजड़ा कहा था. बाबला का कहना है कि उसने मृतिका साइकल से जयराम नगर आते-जाते देखा था.


घटना के दिन वह मृतिका से कूडूभांठा व भनेशर के बीच मिला था. जब मृतिका शाम के वक्त आई तो बाबला तथा संतराम उसे खेत की ओर ले गये. वहां पर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश तो उसने इसका विरोध किया. इस बीच मृतिका मौका पाकर चिल्लाते हुये भागने लगी तभी उसे डंडे तथा मुक्के से पीटा गया था.

बाद में घटना को एक्सीडेंट का रूप देने के लिये उसे सड़क के किनारे ले जाकर फेंक दिया. वहां पर मृतिका छटपटाने लगी तथा उसकी सांस चल रही थी. इससे दोनों ने उसे फिर से खेत में ले जाकर पत्थर तथा डंडे से मारा. इसके दोनों ने नाले के पानी से हाथ धोया तथा मृतिका की साइकिल को पुल के करीब बेशरम की झाड़ियों में फेंक दिया. इस दौरान एक बालक भी बाबला के साथ घटनास्थल पर आया था तथा उसने संपूर्ण घटनाक्रम को देखा था. वह बालक सामान छुपाने में भी उनके साथ था. पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त डंडे तथा पत्थर को जब्त कर लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!