वीजा न देना दादागिरी है- वन मंत्री

रायपुर | संवाददाता: वन मंत्री दोबारा अमरीकी वीजा के लिये अप्लाई नहीं करेंगे. छत्तीसगढ़ के वन मंत्री महेश गागड़ा को अमरीकी यात्रा के लिये वीजा देने से इंकार करने पर उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि अमरीका ने वीजा नहीं दिया, मैं दोबारा उसके लिये अप्लाई नहीं करूंगा.

अमरीका द्वारा सरकारी यात्रा के लिये वीजा न दिये जाने को उन्होंने उसकी दादागिरी करार दिया है.

छत्तीसगढ़ के वन मंत्री महेश गागड़ा का कहना है कि शायद आदिवासी होने के कारण उन्हे वीजा नहीं दिया गया है.

वन मंत्री महेश गागड़ा का कहना है कि उनसे वहीं सवाल पूछा गया जो अधिकारियों से पूछा गया था लेकिन उनको वीजा नहीं दिया गया.

वन मंत्री ने अमरीकी कौंसुलेट द्वारा उन्हें वीजा देने से इंकार करने की बात से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के कार्यालय तथा मुख्य मंत्री रमन सिंह को अवगत करा दिया है.

गौरतलब है कि मंगलवार को हैदराबाद स्थित अमरीकी कौंसुलेट ने वन मंत्री महेश गागड़ा के वीजा आवेदन को खारिज कर दिया है.

16 दिसंबर को वन मंत्री समेत वन विभाग का छः सदस्यीय दल सरकारी यात्रा पर अमरीका जाने वाला था.

मंगलवार को वन मंत्री तथा सीसीएफ अरुण पांडे वीजा के लिये हैदराबाद गये हुये थे. वहां सीसीएफ की अर्जी तो स्वीकार कर ली गई है परन्तु वन मंत्री का वीजा आवेदन खारिज कर दिया गया है.

error: Content is protected !!