पाक संसद के डिप्टी को US वीजा से इंकार

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: अमरीका ने पाक संसद के डिप्टी चेयरमैन को वीजा देने से इंकार कर दिया है. अमरीका ने पाकिस्तानी संसद के डिप्टी चेयरमैन मौलाना अब्दुल गफूर हैदेरी को वीजा देने से इनकार कर दिया है. वे संयुक्त राष्ट्र संघ की एक बैठक इंटरनैशनल पार्लियामेंट्री यूनियन में भाग लेने न्यूयॉर्क जाने वाले हैं. लेकिन अमरीकी दूतावास ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के सांसद ले. जनरल सलाउद्दीन तिरमिजी और प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्यों को वीजा जारी कर दिया है. मौलाना अब्दुल गफूर हैदेरी जमात उलेमा-ए-इस्लाम फज्ल से ताल्लुक रखते हैं, जो अमरीकी नीतियों की आलोचना करता है.

वीजा न मिलने से ख़फ़ा पाकिस्तानी संसद के चेयरमैन रजा रब्बानी ने इस समारोह का बहिष्कार करने का ऐलान किया है. ‘द डॉन’ की रिपोर्ट के मुताबिक चेयरमैन ने निर्देश दिया है कि कोई भी संसदीय प्रतिनिधिमंडल तब तक अमरीका नहीं जायेगा, जब तक वॉशिंगटन या पाकिस्तान स्थित अमरीकी दूतावास हैदेरी को वीजा न दिये जाने का कारण नहीं बता देता.

यह भी पढ़ें- Furore over US visa policy for parliamentarians

पाकिस्तानी संसद के सचिवालय द्वारा जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक रब्बानी ने यह भी निर्देश दिया है कि अमरीकी कांग्रेस या उसके किसी भी राजदूत का पाकिस्तानी संसद स्वागत नहीं करेगी. हैदरी इस्लामाबाद स्थित अमरीकी दूतावास से सीधे संपर्क में नहीं थे. इस बारे में उनके सारे काम सचिवालय द्वारा किये जा रहे थे.

सचिवालय स्टाफ को शनिवार को कहा गया था कि दूतावास उन्हें वीजा के स्टेटस के बारे में जानकारी 14 फरवरी को देगा. यह इंटरनैशनल पार्लियामेंट्री यूनियन का आखिरी दिन है. इसका मतलब साफ है कि अमरीका नहीं चाहता कि डिप्टी चेयरमैन इस बैठक में शामिल हों.

error: Content is protected !!