सौम्या चौरसिया की हिरासत 2 जनवरी तक बढ़ी

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल की उप सचिव रहीं सौम्या चौरसिया की हिरासत 2 जनवरी तक के लिए बढ़ा दी गई है. इस बीच राज्य सरकार ने सौम्या चौरसिया को औपचारिक रुप से निलंबित करने का आदेश भी जारी कर दिया.

सोमवार को मनी लांड्रिंग केस में सौम्या चौरसिया के मामले में वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा पेशी हुई.

प्रव्तन निदेशालय यानी ईडी ने मामले में अपना पक्ष रखते हुए सौम्या चौरसिया को न्यायिक हिरासत में ही रखे जाने की मांग की. इसके बाद अदालत ने सौम्या की हिरासत को 2 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया.

ईडी ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की उप सचिव सौम्या चौरसिया को 2 दिसंबर को गिरफ़्तार किया था. उन्हें कई दिनों की लंबी पूछताछ के बाद न्यायिक हिरासत में रायपुर जेल भेज दिया गया है.

सौम्या चौरसिया के ख़िलाफ़ ज़मीन ख़रीद बिक्री में करोड़ों के भ्रष्टाचार के आरोप हैं.

इसके अलावा उन पर छत्तीसगढ़ में प्रति टन कोयला पर 25 रुपये की लेवी वसूलने वाले गिरोह में शामिल होने का आरोप है.

ईडी ने अदालत में कहा कि यह वसूली 500 करोड़ रुपये से अधिक की है.

हालांकि अदालत में सौम्या चौरसिया के वकील ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया है.

गौरतलब है कि अक्टूबर में ईडी ने राज्य में एक साथ कई जगहों पर छापा मारा था. कई आईएएस अधिकारी और कारोबारियों से लगातार पूछताछ अब तक जारी है.

ईडी ने छापा की कार्रवाई सौम्या चौरसिया के घर पर भी की थी. इसके बाद से लगभग 8 बार सौम्या चौरसिया से पूछताछ हो चुकी थी.

इस मामले में पहले से ही तीन कारोबारी और एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी समीर विश्नोई जेल में हैं.

ईडी की ताज़ा कार्रवाई के बाद आशंका जताई जा रही है कि कुछ और लोग इस मामले में गिरफ़्तार किये जा सकते हैं.

error: Content is protected !!