फ़ाइज़र की वैक्सीन को अमरीका की हरी झंडी

नई दिल्ली | डेस्क: फ़ाइज़र कंपनी के वैक्सीन की सिफ़ारिश अब अमरीका ने भी की है. अमरीकी विशेषज्ञों ने जांच के बाद इसे सुरक्षित बताया है.

बीबीसी के अनुसार अमेरिकी एजेंसी ‘फ़ूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन’ (एफ़डीए) को सलाह देने वाले चिकित्सा विशेषज्ञों ने फ़ाइज़र-बायोएनटेक द्वारा विकसित कोविड वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग की सिफ़ारिश की है.


23 विशेषज्ञों के एक दल ने फ़ाइज़र कंपनी की कोविड वैक्सीन को इस्तेमाल के लिए सुरक्षित पाया है.

फ़ाइज़र की वैक्सीन को ब्रिटेन, कनाडा, बहरीन और सऊदी अरब में पहले ही मंज़ूरी मिल चुकी है.

फ़ाइज़र इंडिया ने भारत में भी अपनी कोविड वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की अनुमति माँगी है.

अमेरिकी अधिकारियों ने बताया है कि एफ़डीए द्वारा फ़ाइज़र की वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की आधिकारिक मंज़ूरी अगले कुछ दिनों में मिलने की उम्मीद है.

एफ़डीए के विशेषज्ञों द्वारा इस वैक्सीन को मंज़ूरी मिलने के ख़बर, अमेरिका में एक दिन के अंदर तीन हज़ार से अधिक लोगों को कोविड-19 से मौत होने के एक दिन बाद आयी है.


यह पूरी दुनिया में, एक दिन के भीतर कोविड से मरने वालों का ‘सबसे बड़ा आँकड़ा’ है.

अमेरिका के स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार को कहा था कि एफ़डीए अगर फ़ाइज़र की वैक्सीन को मंज़ूरी देता है, तो कुछ ही दिनों के भीतर अमेरिका में टीकाकरण शुरू किया जा सकेगा.

अमेरिका में टीकाकरण के वितरण का काम करने वाली एजेंसी ने भी कहा है कि मंज़ूरी मिलने के 24 घंटे में ही वैक्सीन की डिलीवरी शुरू हो जायेगी.

फ़ाइज़र की रणनीति के अनुसार, अमेरिका में कंपनी पहले चरण में क़रीब 65 लाख वैक्सीन देने वाली है.

यह वैक्सीन दो डोज़ में दी जाती है, इस हिसाब से पहले चरण में लगभग 32 लाख लोगों को यह टीका दिया जा सकेगा.

अमेरिका के सेंटर्स फ़ॉर डिज़ीज़ कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने कहा है कि अमेरिका में क़रीब 21 मिलियन (दो करोड़ से अधिक) स्वास्थ्यकर्मी हैं और किसी भी वैक्सीन को मंज़ूरी मिलने के बाद, सबसे पहले इस समूह का टीकाकरण होना चाहिए.

अमेरिका में इस बात पर फ़िलहाल सहमति नहीं बनी है कि किन्हें और किस तरह वैक्सीन दी जायेगी.

दवा कंपनी मॉडर्ना और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ हेल्थ भी अपने यहाँ विकसित वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की मंज़ूरी चाहते हैं.

इन दोनों ने भी अमेरिकी प्रशासन से अनुमति के लिए आवेदन किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!