रायपुर जंगल सफारी में फिर शावक की मौत

रायपुर | संवाददाता : रायपुर के जंगल सफारी में तस्करों से छुड़ाये गये एक तेंदुआ शावक की मंगलवार को मौत हो गई. जंगल सफारी प्रबंधन का कहना है कि तेंदुआ शावक को संभवतः पीलिया हो गया था, जिसका समय पर पता नहीं चल पाया.

जंगल सफारी में जानवरों की रक्त जांच के लिये लगभग 80 लाख रुपये की लागत से जो मशीन ख़रीदी गई थी, वह ख़राब पड़ी हुई है.


गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में रायपुर में दो तस्करों से तेंदुआ के दो शावकों को बरामद किया था. पुलिस ने रायपुर के चूना भट्टी निवासी मो. साबिर अली और राकेश निषाद को इस मामले में गिरफ्तार किया था.

दावा किया गया था कि दो तेंदुआ शावक को आरोपी गरियाबंद के इलाके से लेकर आ रहे थे. इन्हें किसी बड़े गिरोह को बेचे जाने की तैयारी थी.

इन तस्करों से जब्त शावक को जंगल सफारी में रखा गया था. खबर है कि एक तेंदुआ शावक को पीलिया हो गया था लेकिन जांच की सुविधा उफलब्ध नहीं हो पाने के कारण समय रहते इसका पता नहीं चल पाया.

इससे पहले पिछले दो माह में सिंह के एक शावक और एक जवान सिंह की मौत हो चुकी है. लेकिन अब तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि इनकी मौत कैसे हुई. दोनों ही सिंह की जांच WII को भेजी गई है, जहां से रिपोर्ट अब तक अप्राप्त है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!