झारखंड में अलग देश बनाने की तैयारी

रांची | संवाददाता: झारखंड में एक बार फिर अलग देश की मांग उठी है. राज्य के कोल्हान संभाग को अलग देश घोषित करने के लिये 18 दिसंबर को एक बड़े आयोजन की तैयारी की जा रही है. इसी दिन इस देश का नया झंडा भी फहराया जायेगा. हालांकि प्रशासन का कहना है कि इस तरह की कोशिश करने वाले को छोड़ा नहीं जायेगा.

राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रह चुके 83 साल के रामो बिरुवा लंबे समय से आदिवासियों के लिये अलग देश की मांग करते रहे हैं. उनका कहना है कि अलग देश के बिना आदिवासियों का कल्याण नहीं हो सकता. हालांकि आदिवासी समाज का एक बड़ा वर्ग ऐसा है, जो रामो से सहमत नहीं है और उसकी मांग है कि रामो को इस तरह की मांग के आरोप में आजीवन जेल में डाल देना चाहिये.


बहरहाल इन सारे आरोपों से बेपरवाह रामो बिरुवा ने अलग ‘कोल्हान’ देश की मांग को लेकर पंड्राशाली के भोया में 18 दिसंबर को दिन में 11 बजकर 11 मिनट और 11 सेकेंड पर अलग देश का झंडा फहराने का ऐलान किया है. रामो बिरुवा ने सभी मुंडा मानकी को इस आयोजन में शामिल होने का न्यौता दिया है.

इस बीच सरकार ने खूटपानी प्रखंड के भोया में धारा 144 लागू कर दिया है. सदर अनुमण्डल पदाधिकारी आर रोनिटा ने कहा है कि इश तरह का काम देशद्रोह की श्रेणी में आता है और इस तरह की कोशिश करने वाले को तत्काल गिरफ्तार कर लिया जायेगा. चाईबासा में ज़िला प्रशासन ने शनिवार को सभी मुंडा-मानकी की बैठक बुलाकर कहा कि वे रामो बिरुवा का साथ न दें.

रामो अपने को कोल्हान गवर्मेंट इस्टेट का मुखिया बताते रहे हैं और उन्होंने इलाके में लंबे समय से लोगों को जाति, आय, जन्म, मृत्यु और दूसरे पहचान पत्र कोल्हान गवर्मेंट इस्टेट की तरफ से देते रहे हैं. उन्होंने अपनी कथित सरकार द्वारा लगान वसूली भी की थी, जिस पर रामो को गिरफ्तार भी किया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!