पत्रकार कमाल ख़ान का निधन

लखनऊ | संवाददाता: एनडीटीवी से जुड़े देश के जाने-माने पत्रकार कमाल खान का शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया.

टीवी पत्रकारिता में कमाल खान एक जाना-पहचाना नाम था. गुरुवार की रात तक उन्होंने ख़बर की थी.


वे अपनी गंभीर और जिम्मेवारी वाली भाषा के ऐसे पत्रकार थे, जिनकी प्रशंसा उनके विरोधी भी करते थे. बिना किसी अतिरिक्त उत्तेजना के, बेहद तसल्ली के साथ अपनी बात रखने में उनका कोई मुकाबला नहीं था. अपनी पीटीसी को किसी मौजू शेर के साथ खत्म करने की उनकी खास अदा भी उन्हें दूसरे रिपोर्टरों से अलग करती थी.

कमाल ख़ान को उनके बेहतरीन काम के लिए भारत के राष्ट्रपति द्वारा गणेश शंकर विद्यार्थी सम्मान और रामनाथ गोएनका अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था.

एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार ने कहा है कि वह कमाल ख़ान के निधन की ख़बर सुनकर सदमे में हैं.

उन्होंने कहा, “न सिर्फ उनके सहयोगियों बल्कि टीवी न्यूज़ के करोड़ों दर्शकों के लिए ये एक बहुत दुख़द और अफ़सोसनाक ख़बर है. हम सब के लिए यक़ीन करना मुश्किल हो रहा है कि कमाल ख़ान अब हमारे बीच में नहीं हैं. उनके बारे में बहुत बातें की जा सकती हैं लेकिन इस वक़्त ऐसा सदमा लगा है कि न कुछ याद आ रहा है, न कुछ समझ में आ रहा है कि उनके बारे में क्या कहा जाए. हर किसी के पास एक अलग-अलग कमाल ख़ान हैं. उनकी रिपोर्टिंग की अपनी यादें हैं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!