अब ईरानी तेल का भरोसा

नई दिल्ली । एजेंसी: पेट्रोलियम मंत्री वीरप्पा मोइली ने अब सरकार को सुझाव दिया है कि भारत, ईरान से तेल का आयात करे. वामपंथी दलो तथा जनता दल युनाईटेड ने भी इस मांग का समर्थन किया है. वीरप्पा मोइली ने इस बाबत एक पत्र प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को लिखा है.

ज्ञात्वय रहे कि संयुक्त राष्ट्र संघ ने ईरान से पेट्रोल के आयात पर सीमित रूप से प्रतिबंध लगा रखा है. इस प्रतिबंध के पहले भारत ईरान से करीब 20 प्रतिशत लेल का आयात करता था. जो प्रतिबंध के पश्चात् घटते-घटते 7 प्रतिशत का रह गया है. बकौल वीरप्पा मोइली इससे भारत को 8.50 अरब अमरीकी डालर की बचत होगी.

गौर तलब है कि भारत पहले से ही भुगतान संतुलन के घाटे से जूझ रहा है. ऐसे में यदि ईरान से 40 से 60 प्रतिशत आयात भारतीय मुद्रा में किया जाता है तो भारत को उतने अमरीकी डालर भुगतान के लिये नही खरीदने पड़ेगें. इससे भुगतान संतुलन में भारत को फायदा होगा.

error: Content is protected !!