नोटबंदी एक स्कैम था-राहुल गांधी

नई दिल्ली | डेस्क: नोटबंदी को लेकर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने आरोप लगाया कि नोटबंदी एक स्कैम था, जिसे जानबूझ कर अंजाम दिया गया.

राहुल गांधी ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि देश के कुछ सबसे बड़े उद्योगपतियो ने बैंक का लोन लिया था जो एनपीए में बदल गया था. नरेंद्र मोदी जी ने देश की जनता का पैसा लेकर, आपकी जेब से पैसा निकालकर, सीधा हिंदुस्तान के सबसे बड़े पूंजीपतियों की जेब में डाला. ये नोटबंदी का लक्ष्य था.


राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री के नोटबंदी के कदम ने देश की अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी. इधर राहुल ने राफेल पर भी एक के बाद एक ट्वीट पर अरुण जेटली को घेरने की कोशिश की.


इससे पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली ने नोटबंदी के फायदे बताते हुये दावा किया था कि नोटबंदी का एक बड़ा उद्देश्य भारत को ‘गैर कर अनुपालन’ समाज से कर अनुपालन में बदलना था. इसका लक्ष्य अर्थव्यवस्था को औपचारिक बनाना और कालेधन पर प्रहार भी था.

जेटली के अनुसार- जब कैश बैंक में जमा किया जाता है तो इसके स्वामित्व की गुमनामी खत्म हो जाती है. जमा कैश के मालिकों की पहचान हो गई है. इनकी जांच चल रही है कि जमा की गई रकम उनकी आमदनी के मुताबिक है या नहीं. 18 लाख जमाकर्ताओं की जांच चल रही है. इनमें से बहुतों से टैक्स और पेनल्टी वसूल की जा रही है. बैंकों में जमा कैश का मतलब यह नहीं है कि सारा पैसा सफेद ही है.’

जेटली ने टैक्स कलेक्शन में वृद्धि का हवाला देते हुए कहा कि मार्च 2014 में 3.8 करोड़ टैक्स रिटर्न फाइल हुए. 2017-18 में यह आंकड़ा बढ़कर 6.86 करोड़ हो गया. पिछले दो सालों में इनकम टैक्स में 19 और 25 फीसदी की वृद्धि हुई है. यह अदभुत वृद्धि है.

जेटली ने कहा कि नोटबंदी के बाद 1 जुलाई 2017 को जीएसटी लागू हुआ. पहले ही साल में पंजीकृत कर निर्धारण में 72.5 फीसदी की वृद्धि हुई. इसकी संख्या 66.17 लाख से बढ़कर 114.17 लाख करोड़ हो गई.

उन्होंने कहा कि ये सब नोटबंदी के सकारात्मक प्रभाव हैं. अर्थव्यवस्था जितनी औपचारिक होगी सिस्टम में पैसा उतना अधिक होगा, अधिक टैक्स रेवेन्यू, अधिक खर्च, और पहली दो तिमाही के बाद अधिक ग्रोथ.

हालांकि राहुल गांधी के प्रेस कांफ्रेस के बाद भाजपा एक बार फिर मैदान में उतरी. राहुल गांधी द्वारा नोटबंदी को स्कैम बताये जाने के आरोप को लेकर भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी एक बहुत ही अगंभीर राजनीतिक खिलाड़ी हैं. राहुल गांधी ने कहा कि लोगों से जेब से पैसा निकाल लिया गया. जेब काटना क्या होता है मैं साधारण तरीके से बताता हूं. ए से ज़ेड तक कांग्रेस पार्टी भ्रष्ट है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी और गाँधी परिवार के पुरखों ने पैसा लूट-लूट कर जो रखा था, जीप स्कैम से अगस्ता वेस्टलैंड स्कैम तक ये सारे नोटबंदी के बाद पैसे कागज के टुकड़े बन गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!