मंदी के बावजूद 3K Cr का कारोबार

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में इस बार 3000 करोड़ का कारोबार होगा. छत्तीसगढ़ में मंदी के बावजूद नवरात्रि-दीवाली में 3000 करोड़ रुपयों के कारोबार की उम्मीद जताई जा रही है. आमतौर पर नवरात्रि में 500-700 करोड़ तथा दीवाली में 1500 करोड़ रुपयों का कारोबार होता है. इस बार दोनों एक ही माह में होने से कारोबारियों को उम्मीद है कि आकड़ा 3000 करोड़ रुपयों के कारोबार तक पहुंच जायेगा.

अब तक नवरात्रि में बड़े पैमाने पर कारोबार हुआ है. धनतेरस और दीवाली में लगभग 2 हजार करोड़ रुपये का कारोबार होने का अनुमान है. कारोबारियों के अनुसार रियल एस्टेट, आटोमोबाइल्स और सराफा में बंपर बुकिंग से ही 1500 करोड़ रुपये के कारोबार की उम्मीद है.


जानकारों का मानना है कि नौकरीपेशा लोगों को इस बार दीवाली से पहले वेतन व बोनस मिलने, रेपोरेट कम होने से रियल स्टेट सेक्टर में तेजी तथा दुकानदारों द्वारा तरह-तरह के लुभावने स्कीम के कारण बाजार में भीड़ बढ़ी है तथा लोग खरीददारी कर रहें हैं. इसके अलावा ऑनलाइन खरीदी में भी कई तरह के ऑफर मिल रहें हैं.

केन्द्रीय कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के कारण बढ़ा हुआ वेतन मिला है. कुल मिलाकर हाथ में पैसे होने के कारण ग्राहकों का मन खरीददारी करने को मचला जा रहा है.

छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष अमर पारवानी के अऩुसार कई सालों बाद नवरात्रि और दीवाली का संयोग एक ही माह में आया है. इससे सराफा, रियल एस्टेट और ऑटोमोबाइल्स सहित सभी ट्रेड्स में तेजी आई है. एक महीने में छत्तीसगढ़ में लगभग 3000 करोड़ रुपये के कारोबार की उम्मीद है.

वैसे छत्तीसगढ़ के बाजारों में सबसे ज्यादा तेजी रियल स्टेट, सराफा, मोबाइल फोन, ऑटोमोबाइल्स, रेडीमेट कपड़े तथा घरेलू सामान के क्षेत्र में देखी जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!