निकाय चुनाव: असंभव बना संभव

भिलाई | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के भिलाई-चरोदा नगर निगम चुनाव में भाजपा ने असंभव को संभव बना दिया. जिसका श्रेय पार्टी के वरिष्ठ नेता बृजमोहन अग्रवाल को जाता है. जीत के बाद उन्होंने भी टिप्पणी की असंभव को संभव बना दिया. गौरतलब है कि मतगणना के एक दिन पहले तक राजनीति के पंडित मान रहे थे कि भाजपा का जीतना कठिन है. चुनाव की अधिसूचना जारी होते ही यहां भाजपा में अंदुरूनी असंतोष झलकने लगा था. करीब आधा दर्जन स्थानीय नेताओं ने निर्दलीय के रूप में ताल ठोंक दी थी. पार्टी ने इस चुनाव की कमान बृजमोहन अग्रवाल को सौंपी थी.

नोटबंदी के बाद हुये गुजरात, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के स्थानीय चुनाव एवं विधानसभा चुनाव में भाजपा को सफलता मिली थी, ऐसे में छत्तीसगढ़ भाजपा के लिये भी निकाय चुनाव में जीत हासिल करना प्रतिष्ठा की बात बन गई थी. उधर, भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस का रुख हमलावर होता जा रहा है. ऐसे में भाजपा के लिये भिलाई-चरोदा नगर निगम चुनाव नाक का सवाल बन गया था. भिलाई-चरोदा चुनाव में भाजपा लगभग 5 हजार मतों से विजयी रही.


दूसरी तरफ कांग्रेस की हार के लिये चुनाव प्रबंधन की कमजोरी को सीधे तौर पर कारण माना जा रहा है. नोटबंदी से उपजी असंतोष को कांग्रेस मतों में परिवर्तित नहीं कर पाई. राज्य में मिनी स्टील प्लांट से लेकर किसान, मजदूर, आम जनता, कर्मचारी सभी पर नोटबंदी ने असर डाला है. ऐसे में लोगों में एक असंतोष की भावना तो है दी परन्तु कांग्रेस ऐसी कोई रणनीति ही नहीं बना पाई जिसके बदौलत भाजपा को स्थानीय तौर पर शिक्कत दी जा सके.

चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद भूपेश बघेल ने कहा कि गांव में जनता हमारे साथ है. उन्होंने 2 जिला पंचायत तथा 3 पंचायत में कांग्रेस के विजयी होने पर कहा कि जनता ने नोटबंदी को खारिज कर दिया है.

बहरहाल, नोटबंदी के दौर में भिलाई-चरोदा की सीट से भाजपा खुश है. भिलाई-चरोदा के ‘दंगल’ में जीत के बाद मुख्यमंत्री रमन सिंह सपरिवार आमिर खान की फिल्म ‘दंगल’ देखने पहुंचे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!