छत्तीसगढ़: सुपोषित बस्तर अभियान

जगदलपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले को कुपोषणमुक्त करने के लिए सुपोषित बस्तर अभियान चलाया जायेगा. इसके तहत हर बुधवार को चिकित्सकों द्वारा कुपोषित बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उपचार किया जायेगा. बस्तर के कलेक्टर अमित कटारिया ने कहा कि स्वस्थ बस्तर के निर्माण के लिए कुपोषण के अभिशाप को जड़ से समाप्त करने की आवश्यकता है.

उन्होंने कहा कि कुपोषण मुख्यतः स्वास्थ्य से संबंधित मामला होने के कारण चिकित्सकों को विशेष तौर पर ध्यान देना होगा. उन्होंने कहा कि महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा कुपोषण को समाप्त करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं, किन्तु चिकित्सकों के मार्गदर्शन से यह प्रयास शीघ्र अपने परिणाम देगा.


इसके तहत स्वास्थ्य केन्द्र के अंतर्गत आने वाली आंगनबाड़ियों के कुपोषित बच्चों और पालकों को लाने की व्यवस्था की जायेगी. इस दिन सभी कुपोषित बच्चों को 2 अंडे, 1 ग्लास दुध, मुंगफली केक, केला और गर्म भोजन भी डीएमएफ योजना के तहत प्रदाय करने की योजना शुरु की जायेगी तथा यह योजना महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित योजनाओं से अलग होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!