छत्तीसगढ़: राजधानी में खुलेआम लूट

रायपुर | संवाददाता: रायपुर में सोमवार को लुटेरों का दुस्साहस देखने को मिला. शाम को बाइक सवार लुटेरों ने पहले एक महिला का बैग छीन लिया उसके दस मिनट बाद ही एक दूसरी घटना में एक कारोबारी को लूट लिया. दोनों ही घटनायें कोतवाली इलाके की हैं. यह भी माना जा रहा है कि दोनों ही घटनाओं को एक ही गिरोह ने अंजाम दिया है.

मिली जानकारी के अनुसार सबसे पहले लुटेरों ने स्कूटी सवार 28 वर्षीया फौजिया नसरीम खान को लूटा. उसके बैग में सोने की चार अंगुठियां, डायमंड की रिंग, सोने का कंगन, रानीहार, दो मोबाइल फोन और एटीएम रखे हुये थे. इन सबकी कीमत दस लाख रुपये आंकी जा रही है.

दरअसल, रायगढ़ की रहने वाली फौजिया अपने रिश्तेदार के यहां शादी में रायपुर आई हुई थी. वह अपने जीजा सलीम खान के यहां शैलेन्द्र नगर गई हुई थी. शाम को जब वह अपनी बहन तथा बेटी के साथ वहां से निकली तभी डॉ. सोनू मलहोत्रा के नर्सिंग होम के पास तीन मोपेड सवारों ने पीछे से उसका बैग छीन लिया. फौजिया ने अपनी स्कूटी से उऩका पीछा भी किया परन्तु लुटेरे गायब हो गये.

इसके बाद तीन मोपेड सवार युवकों ने अपनी गाड़ी एक कारोबारी की गाड़ी के सामने अड़ाकर उसे गिराया और उसकी जेब से तीस हजार रुपये नगद एवं मोबाइल फोन लूट लिया. कारोबारी के संभलने के पहले ही लुटेरे भाग खड़े हुये. यह घटना पुलिस लाइन ट्रांजिट मेस के सामने की है.

इससे पहले राजधानी रायपुर में 1 अक्टूबर के दिन नकाबपोश लुटेरों ने शराब दुकान से बंदूक के दम पर चार लाख रुपये लूट लिये थे. लुटेरों ने गद्दीदार के पैर में गोली भी मार दी थी.

उससे दो दिन पहले सराफा व्यापारी प्रवीण नाहटा को घायलकर उन्हें लूट लिया गया था.

error: Content is protected !!