अच्छी के साथ बुरी कहानियां भी लिखीं: अनुराग

Wednesday, November 26, 2014

A A

अनुराग कश्यप-फिल्मकार

पणजी | मनोरंजन डेस्क: किसी भी अन्य आम आदमी के समान फिल्मकार अनुराग कश्यप ने भी अपने जीवन में अच्छे तथा बुरे काम किये हैं. अनुराग के इस कथन का तात्पर्य है कि उन्होंने फिल्मों के लिये दोनों तरह की कहानिया लिखी है. फिल्म निर्माता-निर्देशक अनुराग कश्यप ने राम गोपाल वर्मा और विक्रमादित्य मोटवानी जैसे निर्देशकों के लिए कहानियां लिखी हैं. लेकिन उन्हें अपनी लिखी कुछ कहानियों पर कतई गर्व नहीं है. अनुराग ने यहां सोमवार को एक समूह साक्षात्कार में कहा, “मैंने अच्छी फिल्में बनाई हैं, लेकिन कुछ बुरी फिल्म कहानियां भी लिखी हैं. मैं उनका नाम नहीं लूंगा, क्योंकि वे कुछ अन्य फिल्मकारों की फिल्में हैं.”

अनुराग कहते हैं कि उन्हें हर साल एक फिल्म बनाने की जरूरत है. उनके निर्देशन की अगली फिल्म ‘बाम्बे वेलवेट’ 2015 में रिलीज होगी.

उन्होंने कहा, “मुझे हर साल एक फिल्म बनानी होगी. अगर मेरी पिछली फिल्म सफल रहती है, तो यह चीज मुझे और प्रयोग करने के लिए प्रेरित करती है. हर फिल्म आपको कुछ बढ़कर करने की छूट देती है और छूट पानी होगी.” अनुराग कश्यप को अपने अच्छे कहानियों से आगे और अच्छी कहानियां लिखने के लिये प्रेरणा मिलती हैं.

Tags: , , , ,