IAS की पत्नी-पुत्री ने खुदकुशी की

Wednesday, July 20, 2016

A A

फांसी

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: दिल्ली में सीबीआई छापे से व्यथित वरिष्ठ आईएएस की बेटी तथा पत्नी ने खुदकुशी कर ली है. तीन दिनों के अंदर अपने आवास पर केंद्रीय जांच ब्यूरो के दो छापों से व्यथित कॉरपोरेट मामले मंत्रालय के गिरफ्तार वरिष्ठ अधिकारी बी. के. बंसल की पत्नी और बेटी ने कथित रूप से मंगलवार को आत्महत्या कर ली. सत्यबाला बंसल (57) और नेहा बंसल (27) को पूर्वी दिल्ली के मधु विहार इलाके में स्थित नीलकंठ अपार्टमेंट के पहले तल पर स्थित अपने फ्लैट के अलग-अलग कमरों में पंखे से लटका पाया गया.

इस दर्दनाक घटना की जानकारी लोगों को तब मिली जब काम करने वाली दो नौकरानियों ने फ्लैट से निकलकर सहायता के लिए चिल्लाना शुरू किया.

सोसाइटी के प्रबंधक रघुवीर सिंह ने कहा कि जब हम कमरे में गए तो सत्यबाला को लटका पाया. अन्य दो कमरे बंद थे.

पुलिस ने कहा कि उसके पास दोपहर बाद लगभग दो बजे एक फोन आया और दूसरे कमरे का दरवाजा तोड़कर खोला गया. उस कमरे में नेहा पंखे से लटकी हुई थी.

पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्ता ऋषि पाल ने कहा, “हमने आत्महत्या के पूर्व लिखे गए दो पत्र जब्त किए हैं जिनमें कहा गया है कि उनके इस कदम के लिए किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराया जाना चाहिए.”

एक अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “बेटी ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि वह केंद्रीय एजेंसी के छापों से अपमानित महसूस कर रही थी, इसी वजह से वे यह कदम उठा रहीं हैं.”

एक पड़ोसी ने कहा कि सीबीआई ने उनके फ्लैट पर शनिवार और सोमवार की सुबह छापे मारे थे.

रघुवीर सिंह ने कहा कि बी. के. बंसल को सेवानिवृत्त चार्टर्ड अकाउंटेंट समझा जा रहा था. वह बहुत अच्छे आदमी थे और अपने आस पास के लोगों की मदद करते थे.

उन्होंने कहा कि फ्लैट के तीसरे कमरे में बहुत सारे दस्तावेज और कागज बिखरे पड़े थे. हो सकता है कि ऐसा सीबीआई की छापेमारी की वजह से हो.

प्रापर्टी डीलर का काम करने वाले बंसल का बेटा योगेश बंसल (29) कहां है, इस बारे में पूछने पर सिंह ने कहा, हमलोगों ने उनसे संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनका मोबाइल फोन नंबर बंद मिला. हमलोगों ने तीन-चार दिनों से उन्हें नहीं देखा है.

कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय में महानिदेशक बीके बंसल को रिश्वतखोरी के आरोप में सीबीआई ने सोमवार को गिरफ्तार किया था. बंसल को शनिवार को मुंबई की दवा कंपनी एल्डर फार्मास्यूटिकल्स से नौ लाख रुपये रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.

उस कंपनी के वितरक के रूप में काम करने वाले कथित बिचौलिये विश्वदीप बंसल को भी गिरफ्तार किया गया है. सीबीआई ने कंपनी के मुख्य संचालन अधिकारी अनुज सक्सेना के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है.

जांच के दौरान सीबीआई ने कहा है कि उसे वरिष्ठ अधिकारी बंसल की हरियाणा के सिरसा, गुडगांव और फरीदाबाद के साथ-साथ दिल्ली में 20 संपत्तियों का पता लगा है. ये सारी संपत्तियां पिछले दो वर्षो में खरीदी गई हैं और अधिकांश बंसल, उनकी पत्नी और बेटे के नाम हैं.

Tags: , , , ,