क्या आप भी पोर्न वीडियो देखते हैं?

Tuesday, December 13, 2016

A A

सेक्स

डॉ. प्रकाश शर्मा
क्या आप भी पोर्न वीडियो देखते हैं? अगर हां, तो यह लेख आपके लिये ही है. आप भले खुलेपन के पक्ष में जितने भी तर्क दे लें लेकिन यह सच है कि पोर्न देखना सेहत के हिसाब से यह एक खतरनाक स्थिति है.

वैज्ञानिकों के एक शोध में यह बात सामने आई है कि अगर आप पोर्न देखते हैं तो उस समय आपके मस्तिष्क में डोपामाइन बनता है, जो पोर्न वीडियो या इस तरह की दूसरी सामग्री को देखते हुये आपको आनंद देता है. लेकिन अगली बार जब आप इसी पोर्न वीडियो को देखने के लिये आनंद की तलाश करते हैं तो आपके मस्तिष्क को आपको और अधिक डोपामाइन की जरुरत होती है.

|| यह भी पढ़ें…भारतीय महिलाओं में तेजी ले घटी है पोर्न वीडियो की चाहत||

मतलब साफ है कि ऐसे में आपको और अधिक पोर्न वीडियो देखने की जरुरत होती है. इस तरह हर बार आप पिछली बार की तुलना में इस पोर्न वीडियो के लिये अधिक समय देते हैं और उससे भी कहीं अधिक नये-नये किस्म के पोर्न देखने के लिये प्रेरित होते हैं.

सेक्स करने या देखने के दौरान हमारे दिमाग में ऑक्सिटोसिन और वासोप्रेसिन जैसे कई रासायन बनते हैं, जिन्हें हमारी स्मृतियों के लिये जिम्मेवार माना जाता है. यानी किसी चीत को याद रखने के लिये ऑक्सिटोसिन और वासोप्रेसिन जैसे रासायन जरुरी हैं. लेकिन लगातार पोर्न देखने के कारण हमारे मन-मस्तिष्क में पोर्न भर छाया रहता है और दूसरी चीज़ें हम भूलने लग जाते हैं.

सेरोटोनिन जैसे एजेंट्स हमारे शरीर में तब बनते हैं, जब हम सेक्स करते हैं. यह हमारे मन-मस्तिष्क को शांत करता है. लेकिन जब हम पोर्न वीडियो देखते हैं तो हमारे भीतर पोर्न देखने की उत्सुकता और कहीं गहराती चली जाती है. मन में एक भाव आने लगता है कि पोर्न वीडियो पर्याप्त हैं. ऐसे में वैवाहिक जीवन खराब हो सकता है.

Tags: , , , , , , , , , , , ,