बिन्नी का धरना खत्म

Monday, January 27, 2014

A A

विनोद कुमार बिन्नी

नई दिल्ली | संवाददाता: आप पार्टी के विधायक बिन्नी का धरना खत्म हो गया है. बिन्नी ने कहा कि मैं केजरीवाल सरकार को दस दिन की मोहलत देता हूं. यदि इन दस दिनों में नीतियां नहीं लागू हुईं तो ऐसा करने पर मैं दोबारा बाध्‍य हो जाऊंगा. उन्होंने कहा कि उन्होंने अन्ना हजारे से बात की थी और अन्ना हजारे ने धैर्य से रहने के लिये कहा है.

विनोद कुमार बिन्नी ने कहा कि मेरे बारे में फैसला लेने के लिए केजरीवाल को जनता की राय लेनी चाहिए थी. किसी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले उन्हें मेरे निर्वाचन क्षेत्र लक्ष्मीनगर में एक जनसभा करनी चाहिए थी. दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने के बाद वह एक तानाशाह बन गए हैं और खुद ही सभी फैसले कर रहे हैं.

बिन्नी ने कहा कि वह जनता से जुड़े मुद्दे उठाते रहेंगे, चाहे यह अनुशासनहीनता ही क्यों न हो. उन्होंने कहा कि उन्हें अब तक आप पार्टी से बाहर किये जाने संबंधी कोई नोटिस नहीं मिली है और नोटिस मिलने के बाद वे अगली कार्रवाई के बारे में विचार करेंगे. बिन्नी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने हाल में एक पत्र भेजा, जिसमें कहा गया कि मेरे खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा रही है. बिन्नी ने कहा कि यदि जनता से जुड़े मुद्दे उठाना अनुशासन का उल्लंघन है तो वह ऐसा करते रहेंगे.

गौरतलब है कि विनोद कुमार बिन्नी पखवाड़े भर से आम आदमी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोले हुये थे. उन्होंने पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाये थे.

इस मामले में आम आदमी पार्टी ने सबसे प्रमुख निर्णायक बॉडी पॉलिटिकल अफ़ेयर्स कमेटी ने पंकज गुप्ता की अध्यक्षता में अनुशासन समीति का गठन किया था और बिन्नी के खिलाफ कार्रवाई के लिये रविवार को इसकी बैठक की गई थी. सोमवार को पार्टी ने बिन्नी के बाहर किये जाने की घोषणा पर मुहर लगा दी. बिन्नी ने सोमवार से ही पार्टी के खिलाफ जंतर-मंतर पर अनशन करने की घोषणा की थी और सोमवार को वे दिल्ली के उपराज्यपाल से मिलने के बाद जंतर-मंतर पर धरने में बैठ गये.

Tags: , , , ,