देर से चुनाव दिल्ली में हार का कारण: नायडू

Sunday, February 15, 2015

A A

वैंकया नायडू

कोलकाता | समाचार डेस्क: वेंकैया नायडू ने कहा लोकसभा चुनाव के बाद देर से दिल्ली में चुनाव कराना वहीं भाजपा की हार का कारण है. वेंकैया नायडू ने साफ किया कि यदि लोकसभा चुनाव के बाद ही दिल्ली विधानसभा के चुनाव करा लिये जाते तो नतीजा भाजपा के हक में होता. इसी के साथ उन्होंने मोदी सरकार का बचाव करते हुइ कहा कि दिल्ली में पार्टी की हार का असर केन्द्र सरकार पर नहीं पड़ेगा. वेंकैया नायडू ने माना कि यह नीतिगत गलती पार्टी से हो गई है. दिल्ली में आम आदमी पार्टी की प्रचंड जीत को स्वीकार करते हुए केंद्रीय शहरी विकास मंत्री एम.वेंकैया नायडू ने शनिवार को कहा कि चुनाव का समय एक नीतिगत गलती थी और भाजपा को अन्य पार्टियों की एकजुटता के खिलाफ खुद को तैयार करना चाहिए. उपराज्यपाल नजीब जंग ने शनिवार को रामलीला मैदान में आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल को मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई.

केंद्रीय शहरी विकास राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो के संगीत अलबम ‘बिकॉज आई लव यू’ को लांच करते हुए नायडू ने कहा कि साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के काफी दिनों बाद चुनाव कराना नीतिगत गलती थी.

उन्होंने कहा, “निश्चित तौर पर यह धक्का है. दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ा है. साल 2013 तथा 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा के वोट बैंक पर कोई असर नहीं पड़ा है. उन पार्टियों का क्या होगा, जिन्होंने अपने ज्यादातर मत और आधार दोनों ही गंवा दिए.”

नायडू ने कहा, “हमसे नीतिगत गलती हुई है. इसे स्वीकार करने में मुझे कोई हिचक नहीं है. लोकसभा चुनाव के तुरंत बाद अगर विधानसभा चुनाव होते तो हम निश्चित तौर पर जीतते. काफी वक्त बाद चुनाव हुआ.”

उन्होंने हालांकि कहा कि हार का भाजपा नेतृत्व पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है.

मंत्री ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नेतृत्व पर धक्के का कोई सवाल नहीं उठता.”

नायडू ने कहा, “इस चुनाव से भाजपा को सबक मिली है कि यदि सभी पार्टियां एकजुट हों, तो हमें जीतने की स्थिति में होना चाहिए.”

उन्होंने कहा कि भाजपा ने आत्मविश्लेषण किया है और अपने आधार के और विस्तार के तरीकों पर गौर करेगी.

नायडू ने कहा, “हमें अन्य चुनौतियों से लड़ने को तैयार रहना चाहिए. यदि अन्य पार्टियां साथ आती हैं, तो हमारी स्थिति ऐसी होनी चाहिए कि हम उनका प्रभावी ढंग से सामना कर सकें और चुनाव में जीत दर्ज करें.

Tags: , ,