वाड्रा के जमीन सौदों पर संसद में हंगामा

Tuesday, August 13, 2013

A A

रॉबर्ट वाड्रा

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी की प्रमुख सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा के कथित अवैध भूमि सौदों पर भाजपा ने मंगलवार को दोनो सदनों में भारी हंगामा किया जिसके चलते सदनों की कार्रवाई कई बार स्थगित करनी पड़ी. मामले को जोर शोर से उठाने के लिए लोकसभा में भाजपाई सांसदों ने वाड्रा चोर, कांग्रेस का हाथ दामाद के साथ और सोनिया का हाथ, दामाद के साथ जैसे नारे लगाये जिसका कांग्रेसी सांसदों ने कांग्रेस समर्थित नारों से जवाब दिया.

इसके अलावा भाजपा नेता यशवंत सिन्हा ने बिना वाड्रा का नाम लिए कहा कि कई ऐसे बिजनेस स्कूल हैं जो धन कमाने के मॉडल सुझाते हैं लेकिन एक उच्च संपर्क वाला व्यक्ति है, जो ऐसे किसी स्कूल नहीं गया बल्कि उसने ऐसा माडेल दिया, जहां कोई निवेश नहीं किया जाता और हजारों करोड रुपये की कमाई हो जाती है. इसका कांग्रेसी सांसदों ने पुरजोर विरोध किया जिसके बाद स्पीकर मीरा कुमार ने सदन की कार्रवाई स्थगित कर दी.

वहीं राज्यसभा में भी कमोबेश यही स्थिति रही और कार्यवाही शुरु होने के कुछ ही देर में 12 बजे तक स्थगित करनी पड़ी. भाजपा के वाड्रा मुद्दे पर सदन में भारी हंगामे के बाद राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी ने कहा, “हर नियम और हर शिष्टाचार का उल्लंघन किया जा रहा है. यदि सम्मानित सदस्यों की इच्छा सदन को अराजकतावादियों का एक संघ बनाने की है, तब बात और है.”

भाजपा ने अंसारी की इस टिप्पणी का कड़ा विरोध करते हुए इसे वापस लिए जाने की मांग की. स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही जब 12 बजे फिर शुरू हुई तो विपक्ष के नेता अरुण जेटली ने कहा कि, “अराजकतावादी शब्द पूरी तरह असंसदीय है. सदन चाहता है कि इस टिप्पणी को वापस लिया जाए और इसे कार्यवाही से निकाल दिया जाए.”

इस पर उप सभापति पी.जे. कुरियन ने कहा कि सभापति ने ‘इच्छा’ शब्द का उपयोग किया है इसका यह अर्थ नहीं है कि उन्होंने सदन को ‘अराजकतावादियों का संघ’ कहा है. उन्होंने कहा, “यह एक अलग मामला है, उन्होंने किसी सदस्य की ओर इशारा नहीं किया.”

Tags: , , ,