यूपी पस्त, सरकार सैफई महोत्सव में मस्त

Tuesday, December 30, 2014

A A

अखिलेश यादव

लखनऊ | एजेंसी: उत्तर प्रदेश में पड़ रही भीषण ठंड और हो रही मौतों पर चिंता जताते हुए राष्ट्रीय लोकदल ने कहा है कि प्रदेश की जनता ठंड से पस्त होकर मौत के मुंह में समा रही है. उधर, प्रदेश सरकार पूरी तल्लीनता से सैफई महोत्सव में मस्त है.

रालोद के प्रदेश अध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान ने कहा कि पूरे प्रदेश में भीषण शीतलहर चल रही है और आए दिन मौतें हो रही हैं, लेकिन समाजवादी पार्टी की सरकार को अपने स्वार्थ और पार्टी नेताओं के लिए मौजमस्ती का जुगाड़ करने के अलावा कुछ दिखाई नहीं देता.

उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष भी ठंड से लोग काल के गाल में समाते रहे, मुजफ्फरनगर दंगा पीड़ितों के शिविरों में कई बच्चों की मौत ठंड से हुई, लेकिन उनके लिए कुछ नहीं किया गया. एक आला अफसर ने तो इन मौतों का मजाक उड़ाया. उन्होंने यहां तक कह दिया कि ठंड से किसी का मौत नहीं हो सकती, ठंड से अगर मौत होती तो साइबेरिया में कोई जिंदा नहीं रहता.

चौहान ने कहा कि पिछले साल भी सूबे के मुखिया मौतों की खबर को नजरअंदाज करते हुए अपने मंत्रियों और अफसरों के साथ सैफई महोत्सव मनाने में लगे थे. इस बार भी उन्हें जनता का दुख दिखाई नहीं पड़ता. युवा मुख्यमंत्री अपने भ्रष्ट मंत्रियों व अफसरों के साथ सैफई महोत्सव में मस्त हैं.

उन्होंने कहा कि सपा ने घोषणापत्र में वादा किया था कि प्रदेश की जनता को ठंड से बचाने के लिए कंबल का वितरण, अलाव व रैन बसेरा की समुचित व्यवस्था की जाएगी, लेकिन कहीं कुछ होता नजर नहीं आता. जनता परेशान है और सरकार मौन है.

उन्होंने कहा कि कंबल वितरण योजना तो बनी, लेकिन राष्ट्रीय लोकदल का मानना है कि इस योजना में भ्रष्टाचार हुआ है. यही वजह है कि प्रदेश सरकार की यह योजना नाकाम साबित हो रही है.

Tags: , , ,