यूपी के लिए शाह की नई टीम!

Sunday, October 26, 2014

A A

अमित शाह-भाजपा अध्यक्ष

लखनऊ | एजेंसी: भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की निगाहें अब उत्तरप्रदेश में वर्ष 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव पर टिकी हुई हैं. पिछले दिनों लखनऊ में हुई राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक के दौरान संघ के नेताओं का मन टटोलने के बाद अमित शाह अब उत्तरप्रदेश की नई टीम तैयार करने में जुट गए हैं.

उत्तरप्रदेश में यूं तो भाजपा नेताओं की एक लम्बी कतार है लेकिन अब पुराने नेताओं के बजाय शाह नई पीढ़ी के नेताओं को तैयार कर उत्तरप्रदेश के रण में उतरने का मन बना चुके हैं. शाह ने उत्तरप्रदेश से जुड़े उन्हीं नेताओं को अन्य राज्यों का प्रभार थमाया है, जो उनकी नई टीम का हिस्सा हैं. सूत्रों के अनुसार यही टीम 2017 में अमित शाह के लिए काम करेगी.

वरिष्ठ पत्रकार कुमार पंकज के अनुसार, शाह इन लोगों के साथ काम कर उनकी क्षमता परख चुके हैं. इसलिए उन्हें नई जिम्मेदारी देकर संगठन की दृष्टि से और मजबूत करना चाहते हैं.

अमित शाह ने लखनऊ के मेयर दिनेश शर्मा को पहले तो राष्ट्रीय महासचिव बनाया और फिर उसके बाद गुजरात जैसे अहम राज्य का प्रभार सौंप दिया. इसके अतिरिक्त रमाशंकर कठेरिया को छत्तीसगढ़, सिद्घार्थनाथ सिंह को पश्चिम बंगाल की जिम्मेदारी दी गई है.

शाह ने मथुरा के श्रीकांत शर्मा को जहां हिमाचल प्रदेश का जिम्मा सौंपा है वहीं मथुरा के ही अरुण सिंह को ओडिशा की जिम्मेदारी देकर उनकी क्षमता परखने का प्रयास किया है.

भाजपा सूत्रों ने बताया कि शाह ने उन्हीं लोगों को अपनी नई टीम में शामिल किया है, जिनको वह लोकसभा चुनाव के दौरान परख चुके हैं. आम चुनाव के दौरान इन सभी लोगों के साथ शाह ने काम किया है और इन्हीं लोगों को वह अन्य राज्यों का प्रभार देकर संगठन की बारीकियों से रू-ब-रू कराना चाहते हैं, ताकि वर्ष 2017 में इनका सही इस्तेमाल किया जा सके.

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि यह बात सही है कि उत्तरप्रदेश में प्रभारी के तौर पर अमित शाह कार्यकर्ताओं के साथ जुड़े थे. इस दौरान उन्होंने लोगों की सांगठनिक क्षमता पहचान कर बड़े स्तर पर दायित्व सौंपा है.

Tags: , , , , , , , , ,