यूक्रेन को जिम्मेदार माना पूतिन ने

Friday, July 18, 2014

A A

मलेशियाई हवाई जहाज

मास्को | समाचार डेस्क: रूसी राष्ट्रपति पूतिन ने मलेशियाई विमान को गिराये जाने के लिये यूक्रेन सरकार को जिम्मेदार माना है. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पूतिन ने रूसी मंत्रिमंडल में मलेशियाई विमान को मिसाइल से मार गिराये जाने पर बोलते हुए कहा कि “अगर यूक्रेन की सरकार ने देश के दक्षिण-पूर्व में लड़ाई फिर से शुरू नहीं की होती तो यह त्रासदी भी नहीं घटनी थी.” गौरतलब है कि यूक्रेन के सरकार तथा विद्रोहियों में से किसी ने भी घटना की जिम्मेदारी नही ली है.

रूसी राष्ट्रपति पूतिन का आरोप है कि यदि कीव ने विद्रोहियों के खिलाफ सैन्य कार्यवाही शुरु न की होती तो यह दुर्घटना नहीं घटती. इस बात की संभावना व्यक्त की जा रही है कि मलेशियाई विमान को यूक्रेन के विद्रोहियों ने बदले की कार्यवाही के तहत मिसाइल से मार गिराया है.

उधर, मलेशिया एयरलाइंस ने शुक्रवार को इस बात की पुष्टि की है कि यूक्रेन में गिरे एमएच17 विमान में 298 यात्री सवार थे. एक बयान में कहा गया है कि एमएच 17 विमान में अलग-अलग देशों की तीन नवजात शिशुओं सहित 283 यात्री तथा मलेशिया चालक दल के 15 सदस्य सवार थे.

इस हादसे में जान गंवाने वाले यात्रियों में हॉलैंड के 154, मलेशिया के 15, ऑस्ट्रेलिया के 27, इंडोनेशिया के 12, ब्रिटेन के नौ, जर्मनी के चार, बेल्जियम के चार, फिलीपींस के तीन और कनाडा के एक नागरिक के रूप में हुई है. जान गंवाने वाले 41 यात्रियों की नागरिकता का पता अभी नहीं चल पाया है.

मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने कहा कि पूर्वी यूक्रेन के दोनेत्स्क क्षेत्र में रूस की सीमा के नजदीक गिरे मलेशिया एयरलाइंस के एमएच17 विमान से ऐसा कोई संदेश नहीं आया था, जिससे ऐसा लगे कि यह किसी मुश्किल में फंसा था.

Tags: , , , , ,