सईद का दिमाग पढ़ने गये थे वैदिक

Tuesday, July 15, 2014

A A

वेदप्रताप वैदिक

नई दिल्ली | संवाददाता: वेद प्रताप वैदिक ने स्पष्टीकरण दिया कि वे सईद का दिमाग पढ़ने गये थे. वैदिक का कहना है कि वे सईद का भारत के प्रति नजरिये को समझना चाहते थे. सोमवार को समाचार चैनल सीएनएन-आईबीएन को दिए साक्षात्कार में वैदिक ने कहा, “मैं जानना चाहता था कि वह कैसा व्यक्ति है, और उसने भारत में गंभीर अपराध क्यों करवाए. मैं उसका दिमाग पढ़ने की कोशिश कर रहा था.”

पेशे से पत्रकार एवं योग गुरु बाबा रामदेव के सहयोगी वेद प्रताप वैदिक की 2008 मुंबई हमलों के मुख्य साजिशकर्ता हाफिज सईद से लाहौर में हुई मुलाकात पर सोमवार को उपजे विवाद के बीच वैदिक ने अपना बचाव करते हुए कहा कि वह सिर्फ पाकिस्तानी आतंकी समूह के नेता का ‘भारत के प्रति नजरिया’ समझने की कोशिश कर रहे थे.

जब वैदिक से पूछा गया कि जमात-उद-दावा के प्रमुख सईद से मिलने का उनका मकसद क्या था तो वैदिक ने कहा, “मकसद बिल्कुल सीधा सा था. मैं एक पत्रकार हूं और मैं उसके बारे में जानना चाहता था.”

वैदिक ने कहा कि ऐसे अनेक लोगों से मिलते रहे हैं, तथा उनमें ऐसे व्यक्ति भी शामिल रहे हैं जो भारत से नफरत करते हैं.

वैदिक ने कहा, “श्रीलंका में मैं भारत को सर्वाधिक नफरत करने वाले लोगों से मिला. मैंने सभी के पक्ष सुने और मैं उनके तर्को को काटने और उनकी सोच बदलने की कोशिश करता रहा हूं.”

उन्होंने आगे कहा, “मैंने एक अभियान छेड़ा हुआ है. मैं चाहता हूं कि पूरा दक्षिण एशिया एकजुट हो जाए. मैं इस पूरे इलाके में शांति और समृद्धि स्थापित करने के अभियान पर अपनी कोशिश कर रहा हूं.”

सरकार ने झाड़ा पल्ला

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को कहा कि रामदेव के सहयोगी वेद प्रकाश वैदिक और मुंबई हमले के साजिशकर्ता हाफिज सईद के बीच लाहौर में हुई मुलाकात में सरकार का कुछ भी लेना-देना नहीं है. जावड़ेकर ने कहा, “इस संदर्भ में सरकार की ओर से बयान की मांग करना आतंकवाद का राजनीतिकरण है. इस मुलाकात से हमारा कुछ भी लेना-देना नहीं है.”

उन्होंने कहा, “कांग्रेस को यह नहीं भूलना चाहिए कि उसके मंत्री ने उसे हाफिज सईद ‘साहब’ से संबोधित किया था. जब कांग्रेस के शासनकाल में यासीन मलिक ने हाफिज सईद के साथ अनशन किया था तब कोई कार्रवाई नहीं की गई थी.”

कांग्रेस के सवाल
उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता सुरेंद्र राजपूत ने कहा कि आतंकवादी हाफिज मोहम्मद सईद, जिस पर 26/11 मुंबई हमले सहित सैकड़ों आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देने का आरोप है और जिसका नाम दुनिया की आतंकी सूची में शीर्ष पांच में है, उससे वेद प्रताप वैदिक की मुलाकात एक गंभीर प्रश्न खड़ा करता है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने सवाल उठाया कि वैदिक अखिर किस मकसद से हाफिज सईद से मिले, क्या मिलने से पहले उन्होंने भारत सरकार को इसकी सूचना दी थी या भारत सरकार से उन्हें कोई निर्देश मिला था?

कांग्रेस नेता ने कहा कि ऐसा आतंकवादी जिसका एकमात्र उद्देश्य भारत और भारत सरकार को नेस्तनाबूद करना है, जो अपने हर भाषण में यही बात कहता है, उससे मिलकर वैदिक अपने देश को क्या संदेश देना चाहते हैं?

Tags: , , , , , ,