चिंता व सदमें का इलाज रेव पार्टी से

Sunday, January 19, 2014

A A

रेव पार्टी

लंदन | एजेंसी: वह दिन दूर नहीं जब बदनाम रेव पार्टियों में नशे के लिये उपयोग किये जाना वाले एक्सटसी या एमडीएमए से चिंता तथा तनाव का उपचार किया जायेगा. इसका हरगिज भी अर्थ नहीं है कि आप लशा करने लगे. शोधकर्ताओं द्वारा किये गये ब्रेन इमेजिंग प्रयोगों से पता चला है कि किस तरह एक्सटसी या एमडीएमए, इसके प्रयोगकर्ताओं में उत्साह के भाव पैदा करती है.

इंपेरियल कॉलेज, लंदन के औषधि विभाग के रॉबिन कारहार्ट हैरिस ने बताया, “हमने पाया कि एक्सटसी या एमडीएमए, दिमाग के संवेदना वाले और स्मृति वाले हिस्सों में रक्त प्रवाह को कम करती है. यह प्रभाव उत्साह के एहसास से संबंधित हो सकता है, जिसे लोग नशीली दवा के सेवन के बाद अनुभव करते हैं.”

शोधकर्ताओं ने 25 लोग चुने. इन लोगों का दिमाग दो बार स्कैन किया गया. एक दवा लेने के बाद और दूसरा प्रयोगिक औषधि लेने के बाद. उन्हें यह भी नहीं बताया गया कि उन्हें कौन सी दवा दी गई है.

शोध के परिणाम में देखा गया कि एमडीएमए ने भावनात्मक प्रतिक्रियाओं में शामिल संरचनाओं के एक सेट- लिंबिक सिस्टम की गतिविधि कम कर दी.

इंपेरियल कॉलेज में न्यूरोसाइकोफार्मेकोलॉजी के प्रोफेसर एडमंड जे. साफ्रा डेविड नट ने बताया, “परिणाम यह दर्शाते हैं कि एमडीएमए के चिकित्सकीय प्रयोग से चिंता और पटीएसडी का उपचार संभव हो सकता है लेकिन हमें सावधान रहने की जरूरत हैं क्योंकि शोध स्वस्थ लोगों पर किया गया था. रोगियों पर इसका समान प्रभाव देखने के लिए हमें रोगियों पर शोध करना होगा.”

कारहार्ट-हैरिस ने कहा, “स्वस्थ लोगों में एमडीएमए ने दुखदायी यादों को कम किया. इससे यह विचार आया कि यह पीटीएसडी के रोगियों की मदद कर सकती है.”

Tags: , , ,