ट्राई ने सीडीएमए नीलामी की सिफारिश की

Saturday, February 22, 2014

A A

ट्राई

नई दिल्ली | एजेंसी: भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने शनिवार को सीडीएमए या 800 मेगाहट्र्ज बैंड की तरंगों की 2685 करोड़ रुपये प्रति मेगाहट्र्ज आरक्षित मूल्य पर नीलामी करने की सिफारिश की है. यह जानकारी यहां जारी एक आधिकारिक बयान में दी गई है.

सिफारिश में कहा गया है कि दूरसंचार विभाग के पास उपलब्ध 800 मेगाहट्र्ज बैंड में सभी स्पेक्ट्रमों को नीलाम किया जाना चाहिए. सिफारिश में कहा गया है, “प्राधिकरण सिफारिश करता है कि 800 मेगाहट्र्ज बैंड में होने वाली नीलामी का आरक्षित मूल्य औसत मूल्यांकन का 80 प्रतिशत रखा जाना चाहिए.”

लेकिन सीडीएमए में कारोबार कर रहे कारोबारी महसूस करते हैं कि ट्राई द्वारा तय आधार मूल्य बहुत अधिक है. एसोसिएशन ऑफ यूनीफाइड टेलीकॉम सर्विसिस प्रोवाइडर्स ऑफ इंडिया (एयूएसपीआई) के प्रधान महासचिव अशोक सूद ने आईएएनएस से कहा, “कीमत बहुत ऊंची है और मैं महसूस करता हूं कि इस कीमत पर बहुत कम खरीददार होंगे.”

मार्च 2013 में हुए इस बैंड की पिछली नीलामी के दौरान इसका आरक्षित मूल्य लगभग 1,800 करोड़ रुपये प्रति मेगाहट्र्ज था.

ट्राई ने यह भी कहा है कि कम से कम पांच मेगाहट्र्ज स्पेक्ट्रम के एक अंश को नीलामी से पहले अलग कर लिया जाना चाहिए.

सिफारिश में इस बात का जिक्र है कि 800 मेगाहट्र्ज बैंड में स्पेक्ट्रम को 1.25 मेगाहट्र्ज के एक ब्लॉक साइज में नीलाम किया जाना चाहिए. सिफारिश में इस बात का भी जिक्र है कि यदि किसी नए दूरसंचार सेवा प्रदाता के पास 800 मेगाहट्र्ज बैंड में कोई स्पेक्ट्रम नहीं है तो उसे न्यूनतम चार कैरियर के लिए बोली लगानी चाहिए.

लेकिन 800 मेगाहट्र्ज बैंड में कुछ स्पेक्ट्रम रखने वाले मौजूदा सेवा प्रदाता को स्पेक्ट्रम के न्यूनतम एक ब्लॉक के लिए बोली लगाने की अनुमति होनी चाहिए.

Tags: ,