सरकार के खिलाफ थाने में 3886 आवेदन

Saturday, August 9, 2014

A A

छत्तीसगढ़ पुलिस

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में सरकार के खिलाफ एक थाने में 3886 आवेदन दिये गये. एफआईआर के लिये दिये गये इन आवेदनों को शहर के सिविल लाइन थाने में दिया गया और मामला था राशन कार्ड का. कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष भूपेश बघेल के नेतृत्व में राशन कार्ड रद्द किये जाने को लेकर हज़ारों की संख्या में महिलाएं और बुजुर्ग कांग्रेस भवन से सिविल लाइन थाना के लिये निकले.

कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने आरोप लगाया कि विगत 3-4 महीनों से राशन कार्डधारको को राशन नहीं मिल रहा है. इस माह कुछ जगह राशन मिला भी, पिछले जून जुलाई माह का राशन नहीं दिया गया.

बघेल ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पूर्व 2013 में शासन द्वारा निर्धारित मापदंड के आधार पर राषन कार्ड में महिला मुखिया के नाम से बनाया गया था और एक प्रकार से महिलाओं की सहानुभूति वोट पाकर प्रदेश के सत्ता में काबिज होने के उपरांत मनमाने ढंग से कार्डो को निरस्त किया जा रहा है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भौतिक सत्यापन के नाम से प्रदेष के सभी जिले, ब्लाकों में सत्यापन दल प्रभारी एवं राशन दुकानदारों द्वारा षड़यंत्रपूर्वक धोखाधड़ी करते हुये लाखों गरीबों के कार्डो पर विगत तीन माह का खाद्यान्न आबंटन नहीं किया जा रहा है.

भूपेश बघेल ने कहा कि वास्तविक कार्ड धारको के कार्ड निरस्त कर रही है. भाजपा सरकार में फर्जी कार्ड वाले मजा मार रहे हैं और गरीब जरूरतमंद राशन कार्ड के लिये भटक के लिये मजबूर किये जा रहे थे. राशन कार्ड को लेकर आम जनता और खासकर महिलाओं में गहरी नाराजगी है.

आज कांग्रेस की रैली जब सिविल लाइन थाना पहुंची तो पुलिस ने भीड़ को रोक दिया और उनसे एफआईआर के लिये आवेदन लेने से भी इंकार कर दिया. बाद में जब भीड़ ने धरना दे दिया तो थाना प्रभारी ने आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरु की.

Tags: , , , , , ,