झारखंड: रकीबुल के घर से दस्तावेज, मोबाइल जब्त

Sunday, August 31, 2014

A A

तारा सहदेव-शूटर

रांची | एजेंसी: तारा शहदेव के साथ झूठ बोलकर शादी रचाने और उसे धर्मपरिवर्तन के लिए मजबूर करने वाले आरोपी के घर से पुलिस ने रविवार को 36 सिम कार्ड और 15 मोबाइल फोन जब्त किए. वरिष्ठ पुलिस महानिदेशक प्रभात कुमार ने कहा, “हमने 36 सिम कार्ड, 15 मोबाइल फोन, दो सीपीयू, चार प्रिंटर, दो एयर गन और न्यायालय से जुड़े दस्तावेज रंजीत कोहली उर्फ रकीबुल हसन के घर से जब्त किए हैं.”

कोहली इस समय तीन दिनों की पुलिस हिरासत में है.

पुलिस सूत्रों ने बताया कि कोहली कई वरिष्ठ न्यायिक और पुलिस अधिकारियों का करीबी रहा है. यहां तक कि वह बिहार के न्यायिक अधिकारियों के नाम पर जारी मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहा था.

झारखंड उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार मुस्ताक अहमद को गुरुवार को निलंबित कर दिया गया.

शहदेव ने आरोप लगाया है कि अहमद ही वह व्यक्ति है, जिसने हसन के साथ उसका निकाह करवाया था, जबकि हिंदू रीति-रिवाज से उनका विवाह पहले ही हो चुका था.

रायफल शूटिंग में राष्ट्रीय स्तर की स्वर्ण पदक विजेता शहदेव ने पुलिस में दर्ज शिकायत में कहा है कि उसकी शादी जुलाई महीने में रंजीत कोहली के साथ हिंदू रीति-रिवाज से हुई थी.

इस्लाम के पाक महीने रमजान के दौरान जब उसके पति को इफ्तार की दावतें भेजी गईं, तब निमंत्रण पत्रों के माध्यम से उसे पता चला कि उसके पति का असली नाम रकीबुल हसन है.

शहदेव ने आरोप लगाया कि कोहली ने 20 लोगों के साथ मिलकर उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव डाला. इनकार करने पर उसे कथित रूप से पीटा गया और उस पर कुत्ते छोड़ दिए गए.

शहदेव ने यह भी आरोप लगाया कि घटना के बारे में किसी को बताने पर उसे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई थी.

कोहली जब 19 अगस्त को दिल्ली गया हुआ था, तब शहदेव ने मौका देखकर अपने परिवार वालों को संदेश भेजा, जिन्होंने आकर उसे छुड़ाया.

Tags: , , , , ,