सामाजिक न्याय के लिये सामाजिक न्याय पीठ

Thursday, December 4, 2014

A A

भारतीय सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली | एजेंसी: सामाजिक न्याय के मामलों में हो रही देरी को देखते हुए सर्वोच्य न्यायलय में इसके लिये पृथक पीठ की स्थापना की जा रही है. इससे नागरिकों को जल्द न्याय सुलभ होगा. सामाजिक न्याय से संबंधित मामलों को निपटाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय में अब अलग से एक विशेष पीठ होगा. प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति एच.एल.दत्तू ने इस विशेष पीठ का गठन किया है. आगामी 12 दिसंबर से न्यायमूर्ति मदन बी.लोकुर तथा न्यायमूर्ति उदय उमेश ललित सप्ताह में एक दिन शुक्रवार को इस पीठ में मामलों की सुनवाई करेंगे.

केवल लंबित मामले ही नहीं, बल्कि ताजे मामलों की सुनवाई भी विशेष पीठ करेगी.

न्यायमूर्ति दत्तू ने इस पीठ का गठन इसलिए किया है, ताकि समाजिक मामलों को जल्द निपटाने के लिए उन्हें विशेष दृष्टिकोण दिया जा सके और लोगों को संविधान द्वारा प्रदत्त अधिकारों का लाभ मिल सके.

पीठ सामाजिक मुद्दों से जुड़े मामलों को देखेगी.

इसके अलावा यह पीठ सभी नागरिकों को चिकित्सकीय सुविधाएं, स्वच्छ पेयजल, वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर महिलाओं के सुरक्षित रहन-सहन संबंधित मामलों का निपटारा करेगी, चाहे उनकी आर्थिक हालत कैसी भी हो.

Tags: , , , , , ,