‘सूट-बूट सरकार’ ज्यादा स्वीकार्य

Saturday, May 30, 2015

A A

प्रधानमंत्री मोदी-प्रधानमंत्री

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: प्रधानमंत्री मोदी ने ‘सूटकेस’ से ‘सूट-बूट सरकार’ ज्यादा स्वीकार्य बताया है. उन्होंने एक साक्षात्कार में कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसा, ”सूट-बूट की सरकार निश्चित रूप से सूटकेस की सरकार से अच्छी है.” उल्लेखनीय है अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के भारत दौरे के समय प्रधानमंत्री मोदी ने लखटकिया सूट पहनकर सबकों चौंका दिया था. उसके बाद से उनके उस सूट को लेकर काफी आलोचनायें हुई थी. बाद में उस सूट को नीलाम कर दिया गया था.

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी अपने हर सभा में मोदी सरकार को ‘सूट-बूट सरकार’ कहकर आलोचना करते हैं. गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के समय नरेन्द्र मोदी ने राहुल गांधी को ‘युवराज’ का नाम दिया था. उसका बदला राहुल गांधी अब मोदी सरकार को ‘सूट-बूट सरकार’ कह कर निकाल रहें हैं. राहुल के तंज का शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी ने जवाब देते हुये कहा कि उनकी सरकार ‘सूटकेस’ सरकार से बेहतर है.

प्रधानमंत्री मोदी का ‘सूटकेस’ से तात्पर्य भ्रष्ट्राचार से है. प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, ”देश की जनता मेरे कामों का मूल्यांकन कर ग्रेडिंग करेगी. मैं यह अधिकार जनता से कैसे छीन सकता हीं. मैंने देश के सामने अपना रिपोर्ट कार्ड रख दिया है. हाल में मीडिया ने कुछ सर्वे के तथ्यों को छापा है.” यह जवाब उन्होंने तब दिया जब उनसे पूछा गया था कि वह अपने सरकार को कितने नंबर देंगे?

अपने एक साल के कार्यकाल पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”हां, मैं एक साल के अपने कामकाज से पूरी तरह खुश हूं. मैं इस बात से खुश हूं कि हमने वादों के मुताबिक देश हित में बड़े कामों की नींव रख दी है. एक साल पहले के हालातों के बारे में जिक्र करें तो हमें पता चलेगा कि उस वक्त करप्शन का कितना बोलबाला था. हमारी सरकार पर एक भी करप्शन के चार्ज नहीं लगे. बुरे दिनों की विदाई हुई तो क्या यह देश के लिए अच्छे दिन नहीं हैं?”

Tags: , , , , , , ,