कोलगेट पर स्टेटस रिपोर्ट दाखिल

Tuesday, October 22, 2013

A A

कोयला घोटाला

नई दिल्ली | संवाददाता: कोलगेट पर सीबीआई ने अपनी स्टेटस रिपोर्ट मंगलवार को सर्वोच्य न्यायालय में दाखिल कर दी है. इस स्टेटस रिपोर्ट को सीलबंद लिफाफे में जमा कराया गया है जिस पर अदालत अगले सुनवाई में संज्ञान लेगी. बताया जा रहा है कि सीबीआई ने पीएमओ से हिंडाल्को से जुड़ी फाइले मांगी हैं. सीबीआई का कहना है कि इस मामले में वह तभी आगे जांच कर सकती है जब उसे फाइले मिलेगी.

वहीं एक समाचार चैनल से कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने कहा है कि कोलगेट से संबंधित सभी लापता फाइले मिल गई हैं. उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक दलों को इस बात का ध्यान रखना चाहिये कि देश में निवेश का वातावरण खराब न हो.

उम्मीद की जा रही है कि सीबीआई द्वारा जमा स्टेटस रिपोर्ट में सभी 14 एफआईआर को ब्यौरा होगा. साथ ही 13 मामलों में हुई कार्यवाही की जानकारियां होंगी. सीबीआई दाखिल रिपोर्ट में इस बात का खुलासा कर सकती है कि वर्ष 2002 से 2008 के बीच कैसे 45 कोयला ब्लॉक अयोग्य कंपनी को आवंटित कर दिए गए.

कोलगेट

गौर तलब है कि सीएजी ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि कोल ब्लाकों को नीलामी न करके आवेदनो के आधार पर बांट दिया गया. इस प्रकार बाजार मूल्यों की अनदेखी कर देश का नुकसान किया गया है. सीएजी के मुताबिक इससे देश को 1.86 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. अमरीका के वाटरगेट कांड की तर्ज पर इस घोटाले को कोलगेट कहा जाता है.

स्टेटस रिपोर्ट

सीबीआई द्वारा स्टेटस रिपोर्ट का अर्थ है कि सर्वोच्य न्यायाल को विस्तार से जानकारियां देना कि कोल घोटाले की जांच में अब तक कितनी प्रगति हो चुकी है. इसमें यह भी दर्ज रहता है कि किन-किन के खिलाफ एफआईआर की गई है तथा कितनी गवाहिंया हो चुकी है. इस स्टेटस रिपोर्ट में सीबीआई को आने वाली कठिनाईयों का भी जिक्र रहता है.

Tags: , , ,