गिरफ्तार आतंकियों के संबंध पटना विस्फोट से

Saturday, November 16, 2013

A A

आतंकवादी

रायपुर |एजेंसी: नरेन्द्र मोदी की सभा के पूर्व पटना में हुए श्रृंखलाबद्ध विस्फोट के तार राजधानी में गिरफ्तार किए गए चार आतंकियों से जुड़ हुए हैं. खंडवा जेल से फरार हुए आतंकियों को रायपुर में ही पनाह देने की तैयारी थी. पुलिस इस मामले का खुलासा करते हुए चार लोगों की गिरफ्तारी कर चुकी है और कुछ अन्य की गिरफ्तारी की भी संभावना जताई जा रही है.

एडीजी, खुफिया मुकेश गुप्ता ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों के बारे में खुलासा करते हुए बताया है कि सिमी के इस नेटवर्क के बारे में लंबे समय से जानकारी एकत्रित की जा रही थी. उन्होंने बताया कि अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है जिनमें उमेर सिद्धकी, अब्दुल वाहिद खान, अजीजउल्लाह तथा अजीज खान को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने यह भी बताया कि चार आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद लगभग चार आरोपी फरार बताए गए हैं जिनके बारे में जानकारी एकत्रित की जा रही है.

उन्होंने खुलासा किया है कि पकड़ा गया उमेर सिद्धकी मुख्य आरोपी है और सिमी का सरगना है. आरोपियों का काम यहां से अपनी आंतकी गतिविधियों के लिए चंदा वसूलना था. पकड़े गए आरोपियों के सीधा संबंध पटना में हुए विस्फोट और खंडवा जेल ब्रेक के आरोपियों से हैं.

उन्होंने कहा कि आरोपियों के संबंध कहीं न कहीं इंडियन मुजाहिदीन से भी हैं और इस बारे में जानकारी एकत्रित किए जाने की कोशिश की जा रही है. पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ धारा 5, 7, 10, 11, 13 ,15, 16, 18, 19 विधि विरूद्ध क्रियाकलाप निरोधक अधिनियम 1967 के तहत अपराध दर्ज किया गया है.

Tags: , ,