श्यामाचरण शुक्ल बन कर बेची 21 बीघा जमीन

Wednesday, June 19, 2013

A A

स्व. श्यामाचरण शुक्ल

लखनऊ | विशेष संवाददाता: जमीन के घोटालेबाज़ों ने अपने फायदे के लिए मध्यप्रदेश के तीन बार मुख्यमंत्री रहे श्यामाचरण शुक्ल को उनके देहांत के छह साल बाद जिंदा कर दिया और फिर उनकी 21 बीघा जमीन बेच दी. मामला उत्तर प्रदेश के मोहनलालगंज के मीनापुर गांव का है जहां छह साल पहले स्वर्गवासी हो चुके शुक्ल की जमीन है. इस जमीन पर घोटालेबाजों की नज़र पड़ गई और उन्होने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर उसे बेच दिया.

इलाके के रजिस्ट्री ऑफिस के रिकार्डों से मिली जानकारी के अनुसार किसी व्यक्ति ने कुछ दिन पहले खुद को श्यामाचरण शुक्ल बताया और इस जमीन को राकेश भारद्वाज नामक व्यक्ति के नाम पर दर्ज करवा दिया. इसके लिए उसने मतदाता पहचान पत्र जैसे पहचान संबंधी दस्तावेजों की प्रति भी उपलब्ध करवाई जिसमें उसका नाम श्यामाचरण शुक्ल दर्ज था.

यहीं नहीं रजिस्ट्री के वक्त 10-10 लाख रुपए के दो चेक दिये जाने का जिक्र भी रिकॉर्ड में दर्ज है. हालांकि चेक नम्बर, बैंक का नाम और खाता संख्या इत्यादि की जानकारी रजिस्ट्री कागजों में नहीं दी गई है. फर्जीवाड़े का खुलासा होते ही मोहनलालगंज पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज की गई और अब अखिलेश सरकार ने इसके उच्चस्तरीय जाँच के आदेश दिए हैं.

इलाके के पुलिस अधिकारियों ने बताया है कि बैनामे में जिस व्यक्ति की फोटो लगाई गई है उसकी उम्र 40-45 वर्ष के बीच प्रतीत हो रही है, जबकि 2007 में स्वर्गवासी हुए श्यामाचरण शुक्ल की उम्र उस समय ही 82 वर्ष थी. अब पुलिस जमीन के खरीददार राकेश भारद्वाज समेत दो गवाहों अनूप गुप्ता और राकेश तिवारी का पता ठिकाना ढूंढने में जुट गई है.

Tags: , , , ,