40 साल बाद पाकिस्तान में बरसेंगे ‘शोले’

Saturday, February 7, 2015

A A

शोले'

इस्लामाबाद | मनोरंजन डेस्क: अपने रिलीज के 40 साल बाद जय-वीरू-बसंती-गब्बर सिंह तथा ठाकुर की ‘शोले’ पाकिस्तान में रिलीज होने जा रही है. फिल्म ‘शोले’ में अमजद खान, संजीव कपूर तथा एके हंगल के बोले डॉयलाग ने इसे भारतीय सिनेमाओं में अविस्मरणीय बना दिया. वास्तव में ‘शोले’ अपने डॉयलागों के कारण लोकप्रिय हुई थी. इस फिल्म ‘शोले’ में डाकू गब्बर सिंह के डायलाग ” …कितने आदमी थे”, ठाकुर बने संजीव कुमार के डॉयलाग “ये हाथ मुझे दे दे गब्बर..” तथा अंधे एके हंगल का कहना “इतना सन्नटा क्यों है भाई…” ने फिल्म ‘शोले’ को अपने समकालीन सिनेमाओं से दिगर रूप में दर्शकों के सामने पेश किया था. अब हिंदी सिने जगत में मील का पत्थर कही जाने वाली फिल्म ‘शोले’ अब पाकिस्तान में रिलीज होने जा रही है. भारत में यह फिल्म 15 अगस्त, 1975 को रिलीज हुई थी. रमेश सिप्पी निर्देशित और अमिताभ बच्चन व धर्मेद्र अभिनीत ‘शोले’ भारतीय फिल्मोद्योग में एक ऐतिहासिक घटना साबित हुई. यह फिल्म उस समय मुंबई के सिनेमाघर में पांच साल तक रोजाना प्रदर्शित हुई.

पाकिस्तान की फिल्म वितरण कंपनी ‘मांडवीवाला एंटरटेनमेंट’ के मालिक व प्रबंध निदेशक नदीम मांडवीवाला 40 साल से अधिक समय बीतने पर अब इसे देश के सिनेमाघरों में रिलीज करने जा रहे हैं.

समाचार-पत्र ‘डॉन’ की रिपोर्ट के मुताबिक, नदीम ने कहा, “कई लोग इसे सिनेमाघर में देखने का अनुभव लेने से अछूते रह गए, इसलिए हमें लगता है कि दर्शक इसे देखने आना चाहेंगे.”

‘शोले’ में संजीव कुमार, हेमा मालिनी, जया बच्चन व अमजद खान जैसी नामचीन हस्तियों ने भी अभिनय किया.

नदीम ने कहा, “फिल्म बड़े पैमाने पर रिलीज नहीं होगी. लेकिन यह कम शो के साथ ज्यादा सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी. अंदाजतन से यह 20 मार्च को रिलीज होगी.”

“Mehbooba Mehbooba” (Sholay)

Tags: , , ,