15,000 करोड़ का गबन रोका: मोदी

Saturday, August 15, 2015

A A

नरेन्द्र मोदी- प्रधानमंत्री

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: प्रधानमंत्री मोदी ने कहा गैस सब्सिडी के 15 हजार करोड़ रुपयों के गबन को सरकार ने रोका है. इसी के साथ उन्होंने लाल किले की प्राचीर से कहा भ्रष्ट्राचार के खात्मे के लिये शीर्ष से शुरुआत करनी पड़ेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश के स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर कहा कि प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण, डीबीटी से रसोई गैस पर 15,000 करोड़ रुपये बचाए जा सके हैं. प्रधानमंत्री ने देश के 69वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार के ‘गिव इट अप’ अभियान से प्रेरित होकर अब तक करीब 20 लाख लोगों ने रसोई गैस पर अपनी सब्सिडी छोड़ दी.

उन्होंने कहा, “हमने प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के तहत रसोई गैस पर मिलने वाली सब्सिडी सीधे लोगों के खाते में दी. हमने जन धन योजना और आधार कार्ड का इस्तेमाल किया..इन कारणों से बिचौलियों और काला बाजारियों के धंधों पर मार पड़ी.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “हमने व्यवस्था को दुरुस्त किया और हर साल सब्सिडी के नाम पर जिस 15,000 करोड़ रुपये का गबन किया जाता था, उसे बचाया.”

मोदी ने अपनी सरकार के ‘गिव इट अप’ अभियान का भी जिक्र किया, जिसके तहत उन्होंने आर्थिक रूप से संपन्न परिवारों से रसोई गैस पर मिलने वाली सब्सिडी छोड़ने की अपील की है.

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि देश भ्रष्टाचार मुक्त हो सकता है, लेकिन इसके लिए शीर्ष से इसका सफाया करना होगा. देश के 69वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री ने कहा, “भ्रष्टाचार से लड़ाई के लिए कई उपाय करने होंगे. भ्रष्टाचार का सफाया किया जा सकता है. यह मैं अपने निजी अनुभव से बता रहा हूं.”

उन्होंने कहा, “मैं लोगों को बताना चाहता हूं कि देश भ्रष्टाचार मुक्त हो सकता है. इसके लिए हमें शीर्ष से भ्रष्टाचार के सफाये की कोशिश करनी होगी. भ्रष्टाचार देश को दीमक की तरह खा रहा है.”

प्रधानमंत्री ने कहा, “यदि आप दीमक से निजात पाना चाहते हैं तो हर जगह इंजेक्शन लगाना होगा.”

Tags: , , ,