‘मुन्नाभाई’ का पोस्टरों से स्वागत

Friday, February 26, 2016

A A

संजय दत्त-मुन्नाभाई

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: जेल से रिहा होने के बाद जब संजय दत्त अपने घर पहुंचे तो उनका स्वागत उऩकी फिल्म ‘मुन्नाभाई’ के पोस्टरों से किया गया. ‘मुन्नाभाई’ संजय दत्त की सबसे लोकप्रिय फिल्म है जिसका सीक्वल भी बना है. पुणे की यरवदा सेंट्रल जेल से रिहा हुए अभिनेता संजय दत्त का यहां गुरुवार को अपने घर पहुंचने पर शानदार स्वागत किया गया. दिवंगत सुनील दत्त और नरगिस दत्त के बेटे संजय मार्च 1993 के मुंबई बम धमाकों के मामले में 42 महीने की कैद की सजा काटने के बाद गुरुवार सुबह रिहा हुए. अपने परिवार के साथ होने की खुशी उनके चेहरे पर साफ झलक रही थी.

पुणे हवाई अड्डे से लेकर मुंबई में हर जगह उनके प्रशंसकों का तांता लगा हुआ था. उनके शुभचिंतक सिद्धी विनायक मंदिर भी गए और उनका गर्मजोशी से स्वागत किया.

संजय के प्रशंसक यहां पाली हिल में फूलों से सजी इम्पीरियल हाइट्स इमारत भी पहुंचे, जहां ‘मुन्नाभाई’ के ढेरों पोस्टर लगे हुए थे.

प्रशंसक संजय के घर के बाहर ढोल की धुन पर नाचे और उन्हें फूल-मालाएं पहनाई.

सजा काट कर घर लौटे संजय ने अपने दिवंगत माता-पिता नरगिस और सुनील दत्त का भी आर्शीवाद लिया. अपने घर जाने से पहले वह यहां मैरीन लाइन्स पर नरगिस की कब्र पर पहुंचे और मां का आशीर्वाद लेने के बाद वह अपनी अवासीय इमारत पहुंचे, जहां उन्होंने अपने पिता की तस्वीर के आगे हाथ जोड़े.

संजय ने अपने तीन दशक लंबे करियर में ‘मुन्ना भाई एमबीबीएस’, ‘हसीना मान जाएगी’, ‘हथियार’ जैसी कई फिल्मों से दर्शकों का दिल जीता.

Tags: , , ,