सन्यास लेंगे मास्टर ब्लास्टर

Thursday, October 10, 2013

A A

sachin tendulkar

मुम्बई | एजेंसी: महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने 200वें टेस्ट के बाद सन्यास की घोषणा की है. सचिन ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के माध्यम से इस बात की घोषणा की. बीसीसीआई सचिव संजय पटेल ने गुरुवार को सचिन की ओर से एक बयान जारी किया, जिसमें इस बात का उल्लेख है कि वह 200वें टेस्ट मैच के बाद टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह देंगे.

सचिन एकदिवसीय मैचों से पहले ही सन्यास ले चुके हैं. उन्होंने हाल ही में समाप्त चैम्पियंस लीग के साथ ही पेशेवर ट्वेंटी-20 क्रिकेट से भी सन्यास की घोषणा की थी.

सचिन रमेश तेंदुलकर का जन्म 24 अप्रैल 1973 को हुआ था. सचिन क्रिकेट के इतिहास में विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में गिने जाते हैं. सन् 1989 में अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण के पश्चात् वे बल्लेबाजी में कई कीर्तिमान स्थापित कर चुके हैं. उन्होंने टेस्ट व एक दिवसीय क्रिकेट, दोनों में सर्वाधिक शतक अर्जित किये हैं. वे टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज़ है. इसके साथ ही टेस्ट क्रिकेट में 14000 से अधिक रन बनाने वाले वे विश्व के एकमात्र खिलाड़ी हैं. एकदिवसीय मैचों में भी उन्हें कुल सर्वाधिक रन बनाने का कीर्तिमान प्राप्त है. उन्होंने अपना पहला प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैच मुंबई के लिये 24 वर्ष की उम्र में खेला. उनके अन्तर्राष्ट्रीय खेल जीवन की शुरुआत 1089 में पाकिस्तान के खिलाफ कराची से हुई.

सचिन राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित एकमात्र क्रिकेट खिलाड़ी हैं. सचिन तेंदुलकर को सन् 2008 में पद्म विभूषण से भी पुरस्कृत किया जा चुका है. वे क्रिकेट जगत के सर्वाधिक प्रायोजित खिलाड़ी हैं और विश्वभर में उनके अनेक प्रशंसक हैं. उनके प्रशंसक उन्हें प्यार से लिटिल मास्टर व मास्टर ब्लास्टर कह कर बुलाते हैं. क्रिकेट के अलावा वे अपने ही नाम के एक सफल रेस्टोरेंट के मालिक भी हैं.

Tags: , , ,