BJP-RJD में फर्क क्या है: आरके सिंह

Saturday, September 26, 2015

A A

आरके सिंह-भाजपा सांसद

पटना | समाचार डेस्क: भाजपा सांसद तथा पूर्व गृह सचिव आरके सिंह ने भाजपा की तुलना आरजेडी से की है. बिहार विधानसभा चुनाव के टिकट वितरण पर उन्होंने विरोध जतलाते हुये आरोप लगाया है कि पैसे लेकर टिकट बांटे जा रहें हैं जबकि बिहार भाजपा का कहना है कि जिताऊ उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है. भारतीय जनता पार्टी के सांसद आर. के. सिंह ने बिहार चुनाव में टिकट बंटवारे पर नाराजगी जताते हुए पार्टी पर पैसे लेकर टिकट बांटने का आरोप लगाया है. पूर्व केन्द्रीय गृह सचिव ने शनिवार को कहा कि पार्टी के मौजूदा स्वच्छ छवि के विधायकों का टिकट काटकर, पैसे लेकर अपराधियों और बाहुबलियों को टिकट दिया जा रहा है. ऐसे में कार्यकर्ताओं में नाराजगी है.

उन्होंने पटना में संवाददाताओं से कहा कि बिना कारण कई लोगों का टिकट काटा गया, इसलिए टिकट वितरण पर फिर से विचार होना चाहिए. पूर्व गृह सचिव सिंह ने न्यूज़ चैनल आईबीएन7 से कहा कि टिकट बंटवारे को लेकर कार्यकर्ताओं में भयंकर असंतोष है. उन्होंने कहा, “आप अपराधियों और पार्टी के बाहर से आए लोगों को टिकट देंगे तो असंतोष तो होगा ही.”

उन्होंने यह भी कहा कि साफ-सुथरी सरकार देने का वादा कर रही भाजपा ने योग्य और कर्मठ कार्यकर्ताओं को दरकिनार करते हुए बिहार में कई जगह अपराधियों को भी टिकट दिए हैं.

आरा संसदीय क्षेत्र से सांसद सिंह ने सवाल उठाया कि ऐसे में भाजपा और लालू प्रसाद की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल में क्या फर्क रह जाएगा? अपराधियों के लिए प्रचार कौन करेगा, वोट कौन मांगेगा?

उल्लेखनीय है कि भाजपा के विभिन्न क्षेत्रों के कार्यकर्ता टिकट बंटवारे में भेदभाव का आरोप लगाते हुए अपना विरोध जताते रहे हैं. कार्यकर्ता भाजपा के प्रदेश कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन भी कर चुके हैं.

भाजपा प्रवक्ता नलिन कोहली ने सिंह के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि पार्टी में टिकट का फ़ैसला लोकतांत्रिक तरीके से केंद्रीय चुनाव समिति और संसदीय बोर्ड करता है.

उधर भारतीय जनता पार्टी के बिहार इकाई के प्रवक्ता डॉक्टर अजफर शम्सी ने बीबीसी से बातचीत में आरके सिंह के आरोपों को खारिज किया. उन्होंने कहा, “टिकट बंटवारे में कार्यकर्ताओं की उपेक्षा नहीं हुई है. जिताऊ उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है.”

Tags: , , , , ,