सिंधु ने जीता Silver

Friday, August 19, 2016

A A

पीवी सिंधु-रियो ओलंपिक

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: पीवी सिंधु ने देश के लिये ओलंपिक का सिल्वर मेडल जीत लिया है. प्रधानमंत्री मोदी ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर उन्हें तुरंत बधाई दी है. इस मेडल को जीतने वाली वह पहली भारतीय खिलाड़ी हैं. भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधु ने विश्व चैंपियन के साथ हुए फाइनल में जबर्दस्त खेल का प्रदर्शन किया लेकिन उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

रोमांचक मैच में विश्व चैंपियन स्पेन की कैरोलीना मारिन ने सिंधु को 21-19, 21-12, 21-15 से मात दी.

सिंधु और कैरोलीना का मैच रोमांचक रहा. सिंधु ने पहले दौर में 21-19 से जीत हासिल की. वहीं वह दूसरा दौर कैरोलीना से 21-12 से हार गई. इस तरह से फैसला तीसरे दौर के मैच में जाकर हुआ.

कल से ही पूरे देश की नजर इस वक्त का इंतजार कर रही थी. पुसरला वेंकट सिंधु एक विश्व वरीयता प्राप्त भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी हैं तथा भारत की नैशनल चैम्पियन रह चुकी हैं. भारत की ओर से ओलम्पिक खेलों में महिला एकल बैडमिंटन के फाइनल में खेलने वाली वे पहली खिलाड़ी हैं.

पीवी सिंधु पूर्व वालीबाल खिलाड़ी पी.वी. रमण और पी. विजया के घर 5 जुलाई 1995 में पैदा हुई. रमण भी वालीबाल खेल में उल्लेखनीय कार्य हेतु वर्ष-2000 में भारत सरकार का प्रतिष्ठित अर्जुन पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं. उनके माता-पिता पेशेवर वॉलीबॉल खिलाड़ी थे, किन्तु सिंधु ने 2001 के ऑल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैंपियन बने पुलेला गोपीचंद से प्रभावित होकर बैडमिंटन को अपना करियर चुना और महज आठ साल की उम्र से बैडमिंटन खेलना शुरू कर दिया.

सिंधु ने सबसे पहले सिकंदराबाद में इंडियन रेलवे सिग्नल इंजीनियरिंग और दूर संचार के बैडमिंटन कोर्ट में महबूब अली के मार्गदर्शन में बैडमिंटन की बुनियादी बातों को सीखा. इसके बाद वे पुलेला गोपीचंद के गोपीचंद बैडमिंटन अकादमी में शामिल हो गई. आगे चलकर वे मेहदीपट्टनम से इंटर्मेडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण की हैं.

पीवी सिंधु को पद्मश्री, अर्जुन पुरस्कार से नवाजा जा चुका है.

पीवी सिंधु को रजत पदक जीतने पर प्रधानमंत्री मोदी ने बधाई दी है.

Tags: , , , ,