लू से बचाएगा कैरी का पना

Monday, May 6, 2013

A A

कैरी पना

जे के कर

जब गर्मियों का मौसम अपने उच्चतम स्तर पर हो और आप इससे परेशान हों तब आप क्या करते हैं? गर्मियों के मौसम में सर्वाधिक पसन्द किये जाने वाला पारम्परिक भारतीय पेय हैं कच्चे आम का पना यानी कि कैरी का पना.

बाजार में बिकने वाली बनावटी रंग और स्वाद से बनी मीठे पानी की एयरेटेड बोतलें तो स्वाद और गुणों में पारम्परिक भारतीय पेयों की छाया को भी छू नहीं सकतीं. गर्मियों में आपके शरीर को लू से बचाने और आपके शरीर के तापमान को स्थिर रखने में आम का पना बहुत सहायक होता है.

पहले जब चूल्हे पर खाना बना करता था तब चूल्हे की राख में दबा कर कच्चे आम को भून लिया करते थे. और इन्हीं भुने हुये कच्चे आम से आम का पना बनाया करते थे. आजकल आम को उबाल कर पीस कर आम का पना बनाते हैं. लेकिन इन उबले हुये आमों को छील कर पल्प निकालने के बजाय कच्चे आम को उबालने से पहलेछीलना अधिक सुविधाजनक है. हम आम का पना निम्न तरह से बना रहें हैं :

कच्चे आम को धोईये, इन्हें छील कर गुठली से गूदा अलग कर लीजिये. इस गूदे को एक कप पानी डालकर उबाल लीजिये.

अब इस उबले पल्प को मिक्सी में चीनी, काला नमक और पोदीना के पत्ती मिलाकर पीस लीजिये. पीस कर एक लीटर ठंडा पानी मिलाईये, छानिये, काली मिर्च और भुना हुआ जीरा पाउडर डालिये.

लीजिए स्वादिष्ट और स्वाथ्यवर्धक आम का पना तैयार है. इसे एकदम ठंडा ठंडा बर्फ के क्यूब डालकर परोसिये. आप चाहे तो पोदीना की पत्तियों से भी सजा कर परोस सकते हैं.

Tags: , , , ,