रमन सिंह ने दी गणतंत्र दिवस की बधाई

Saturday, January 25, 2014

A A

भारत का झंडा

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि राज्य सरकार जनता की तरक्की और खुशहाली के लिए काम करने के प्रति वचनबद्ध है. उन्होंने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी बधाई संदेश में सभी नागरिकों से राष्ट्र की एकता और अखण्डता को सुरक्षित रखने के लिए संविधान के अनुसार देश और प्रदेश के शांतिपूर्ण विकास के लिए काम करने का आव्हान किया है.

रमन सिंह ने कहा है कि महान देश भक्तों और स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के लम्बे संघर्षों के बाद 15 अगस्त 1947 को देश आजाद हुआ और 26 जनवरी 1950 को स्वतंत्र भारत का लोकतांत्रिक संविधान लागू हुआ. मुख्यमंत्री ने कहा कि यह संविधान हमारी सबसे बड़ी पूंजी और देश की सबसे बड़ी ताकत है.

मुख्यमंत्री ने कहा है कि संविधान तथा जनता की आशाओं के अनुरूप लोकतंत्र में जनकल्याण ही किसी भी निर्वाचित सरकार की पहली और इकलौती प्राथमिकता होती है. डॉ. सिंह ने कहा है कि राज्य सरकार छत्तीसगढ़ में गरीबों के जीवन में खुशहाली लाने का एक बड़ा लक्ष्य लेकर चल रही है. हमने घोषणा पत्र 2013 के सभी बिन्दुओं पर अमल करने के की शुरूआत कर दी है. घोषणा पत्र राज्य सरकार के पांच वर्ष की कार्ययोजना है. इसके अन्तर्गत तत्परता से कदम उठाकर प्राथमिकता तय करते हुए राज्य के लगभग 48 लाख गरीब परिवारों को जनवरी 2014 से मात्र एक रूपए किलो में हर महीने 35 किलो चावल देना शुरू हो गया है.

रमन सिंह ने कहा है कि लगभग 17 लाख खेतिहर श्रमिक परिवारों के लिए अटल खेतिहर मजदूर बीमा योजना की शुरूआत हो चुकी है. प्रदेश के चार सौ से ज्यादा वनग्रामों को राजस्व गांव में बदलने का सिलसिला भी शुरू हो गया है. स्कूली बच्चों के मघ्यान्ह भोजन की व्यवस्था शत-प्रतिशत महिला समूहों को सौंपी जा रही है.

मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में कहा है कि संविधान हमें स्वतंत्रता के साथ-साथ लोकतंत्र की भावना के अनुरूप राज्य, देश और समाज के के लिए अपने कर्त्तव्यों और नागरिक अधिकारों के प्रति जागरूक करता है.

Tags: , , , ,