‘रमन के गोठ’ का प्रचार 3.29 Cr में

Friday, March 11, 2016

A A

रमन सिंह- मुख्यमंत्री

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान ‘रमन के गोठ’ की खर्च की गूंज रही. उल्लेखनीय है कि पिछले चार माह में इस कार्यक्रम के प्रचार में तीन करोड़ रुपयों से भई ज्यादा खर्च किया जा चुका है. विपक्षी सदस्य भूपेश बघेल ने रमन के गोठ कार्यक्रम के प्रचार में मुख्यमंत्री के बड़े-बड़े फोटो वाले विज्ञापनों पर जानकारी मांगी.

रमन के गोठ में के प्रचार में मुख्यमंत्री के मुस्कुराते फोटो पर विपक्ष ने सवाल उठाया तो मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय ने कहा कि जो सुंदर होगा, वह सुंदर ही दिखेगा. इस पर बघेल ने कहा, “हम आपकी बात नहीं कर रहे हैं.”

विपक्ष के सदस्य भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री से जानना चाहा कि ‘रमन के गोठ’ कार्यक्रम कब से प्रसारित किया जा रहा है? इस कार्यक्रम में विज्ञापनों एवं होर्डिग्स में दिसंबर, 2015 की स्थिति तक कितनी राशि खर्च की गई है? इस कार्यक्रम के लिए कितने ट्रांजिस्टर का वितरण किया गया है?

इसके जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि इस कार्यक्रम का प्रसारण 13 सितंबर, 2015 से किया जा रहा है. कार्यक्रम के विज्ञापनों एवं होर्डिग्स पर दिसंबर, 2015 की स्थिति में 3,29,77,706 रुपये खर्च किए गए हैं.

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के लिए ट्रांजिस्टर वितरित नहीं किए गए हैं, जिन इलाकों में टीवी और अन्य सुविधाएं नहीं हैं, वहां रेडियो ही संवाद का मुख्य साधन है. योजनाओं की जानकारी के लिए कार्यक्रम शुरू किया गया है. इसमें फोटो नहीं, बल्कि स्केच लगाया गया है. इससे सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन का उल्लंघन नहीं हुआ है. इस संबंध में महाधिवक्ता से राय ली गई थी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब भूपेश से पूछकर ही होर्डिग्स लगवाऊंगा, बताइए, कहां-कहां लगाना है और कहां पर नहीं. इस पर भूपेश बघेल ने कहा, “आपने हमें सुझाव के लायक तो समझा.”

Tags: , , , , ,